पुरकाजी (मुजफ्फरनगर) : कांवड़ मेला में सांप्रदायिक सौहार्द भी देखने को मिल रहा है। बड़े ट्रालों में बनाई गई झांकियों के लिए लगाए गए डीजे कस्बे में डिवाइडर और पेड़ के नीचे फंस रहे हैं। इनको निकालने के लिए पुलिस नदारद है, लेकिन मुस्लिम सभासद टीम के साथ दिन-रात फंस रही कांवड़ को निकालने में जुटे हैं।

कांवड़ यात्रा में इस बार हरिद्वार से जल लेकर आ रही झांकी वाली कांवड़ों में बहुत बड़ी ट्रॉली पर डीजे लगाए गए हैं, जिसके चलते ये कांवड़ कस्बे के बीच से जा रही सड़क के आकार से भी बड़ी हैं। साइज बड़ा होने के कारण घास मंडी के पास पेड़ और डिवाइडर के बीच में रोजाना बड़ी कांवड़ फंस रही हैं। कम से कम दर्जनभर कांवड़ पिछले तीन दिन के भीतर यहां फंस चुकी हैं। शनिवार रात बड़ी कांवड़ निकालने के लिए नगर पंचायत को रात में जेसीबी भेजनी पड़ी थी। कड़ी मशक्कत के बाद डिवाइडर तोड़कर उसे निकाला गया था। फंसी कांवड़ को निकालने के दौरान पुलिस नदारद रहती है, ऐसे में इन्हें निकालने का जिम्मा वार्ड 11 के सभासद सुलेमान ने उठाया है। सभासद ने अभी तक फंसी अधिकतर कांवड़ के ट्रैक्टरों को चलाकर उन्हें बाहर निकाला है। चेयरमैन जहीर फारुकी ने ऐसे हालात के लिए एक टीम बना रखी है, जैसे ही कांवड़ फंसती है, टीम के सदस्य फैसल सिद्दीकी, हाफिज मोहसिन, खुर्रम सभासद, उजैफा, सद्दू गौड़ व कामिल आदि मौके पर पहुंचकर कांवड़ को निकालने में मदद करते हैं। फारुकी ने बताया कि जिस पेड़ के कारण यह मामला हो रहा है, उसे कटवाने के लिए लिए अफसरों को पत्र लिखा गया, लेकिन अफसरों की लापरवाही के चलते पेड़ नहीं काटा गया। इस पेड़ के कारण यात्रा बाधित हो रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस