मुजफ्फरनगर, जेएनएन। खतौली के बुआड रोड स्थित मोहल्ला गणेशपुरी में गत 13 अक्टूबर की रात अपनी पत्नी की उसके मायके में जलाकर हत्या करने के आरोपित पति को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उसे कोर्ट में पेश करके जेल भेज दिया। पत्नी को जलाने के दौरान वह खुद भी झुलस गया था। उसका मेरठ के मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा था। इंस्‍पेक्‍टर खतौली ने आरोपित को जेल भेजे जाने की बात को पुष्‍ट किया है।

ससुरालवालों से करता था पैसों की डिमांड

मोहल्ला गणेशपुरी निवासी अनुराधा 35 की शादी 5 वर्ष पूर्व गांव अंतवाडा निवासी दिनेश से हुई थी। दिनेश मजदूरी करता था। काम नहीं मिलने पर वह खतौली में अपनी ससुराल में रह रहा था। वह नशा करने को भी आदी था और अक्सर ससुरालवालों से पैसे की मांग करता था। पत्नी अनुराधा के साथ मारपीट भी करता था। 13 अक्टूबर की रात अनुराधा की मां मीना उसके बेटे को लेकर किसी काम से गई थी। घर में एक छोटी बेटी सो रही थी। इसी बीच दिनेश का पत्‍नी अनुराधा के साथ विवाद हुआ और उसने अनुराधा को आग के हवाले कर दिया।

मेरठ ले जाते रास्‍ते में तोड़ा था दम

इस दौरान वह खुद भी झुलस गया था। लोगों ने घर से धुआं निकलता देख शोर मचाया और आग पर काबू पाया। बाद में गंभीर रूप से झुलसी अनुराधा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां से उसे जिला अस्‍पताल रेफर कर दिया। हालत ज्‍यादा गंभीर होने पर अनुराधा को मेरठ के लिए रेफर किया गया लेकिन रास्‍ते में ही उसने दम तोड़ दिया। पति दिनेश को भी मेरठ में मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया था। वहीं उसका इलाज चल रहा था। अनुराधा की मां मीना ने दिनेश के खिलाफ दहेज के लिए हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। 22 अक्टूबर मंगलवार को पुलिस ने दिनेश को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। इंस्पेक्टर खतौली संतोष कुमार त्यागी ने बताया कि पत्नी की हत्या के आरोपित दिनेश को जेल भेज दिया है। 

Posted By: Prem Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप