जेएनएन, मुजफ्फरनगर। श्रीआदर्श रामलीला सेवा समिति के तत्वावधन में पटेलनगर नई मंडी में चल रही श्रीरामलीला में अंगद-रावण संवाद एवं हनुमान का संजीवनी बूटी लाने की लीला का सुंदर मंचन किया गया। बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे।

बुधवार की रात रामलीला में मुख्य अतिथि सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी, गौरव स्वरूप, राजेश जैन, सुरेश भाटिया व धर्मप्रकाश गर्ग ने भगवान गणपति, रामायण, ठाकुरजी व श्रीराम की आरती की। आयोजकों ने सभी अतिथियों का सम्मान किया। रामलीला में हनुमान जी लंका से वापसी के बाद श्रीराम ने रावण से युद्ध का एलान किया। श्रीराम के निर्देश पर बाली के पुत्र युवराज अंगद रावण को समझाने के लिए लंका पहुंचे। उन्होंने वीरता का प्रदर्शन करते अपना पैर जमा दिया। कहा कि लंका का कोई भी वीर उनका पैर हिलाकर दिखाए। सभी के विफल होने पर जब रावण खुद अंगद का पैर हटाने के लिए आया, तो अंगद ने कहा कि मेरे पैरों के बजाए भगवान श्रीराम के चरणों में जाओ, तुम्हारा कल्याण होगा। इसके बाद राम की सेना लंका पर चढ़ाई कर देती है। मेघनाद एवं लक्ष्मण का युद्ध होता है। मेघनाद लक्ष्मण को शक्ति मारकर मूर्छित कर देता है, तब पवन पुत्र हनुमान संजीवनी बूटी लाकर लक्ष्मण जी के प्राण बचाते हैं। अंगद-रावण संवाद, मेघनाद-लक्ष्मण संवाद एवं राम के विलाप के दृश्यों ने श्रद्धालुओं को भावविभोर कर दिया। अनिल ऐरन, सुरेन्द्र मंगल, प्रमोद गुप्ता, विकल्प जैन, दीपक गोयल, अनिल जैन, अनिल गोयल, अमित भारद्वाज, शार्दूल जैन, राईमा जैन, मीना ऐरन, मेघा ऐरन, विपिन जैन, भगवती प्रसाद, अंशुल गुप्ता, विकास भारद्वाज, संदीप कश्यप, नितीश भारद्वाज आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran