अग्निपथ योजना नौजवानों के लिए वरदान, देश सेवा का मिलेगा मौक

मुजफ्फरनगर, जेएनएन। अखंड हिंदुस्तान निर्माण के संकल्प के साथ अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासमिति एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक महासभा के राष्ट्रीय संपर्क भवन पुरानी तहसील परिसर मार्केट में हुई। अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष योगेंद्र ने कहा कि अग्निपथ योजना देश के नौजवानों के लिए वरदान है। सभी को सेना में रहकर देश की सेवा करने का मौका मिलेगा। मुख्य अतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष आचार्य मदन रहे। बैठक में कई प्रदेशों के प्रतिनिधि एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं राष्ट्रीय महा समिति के पदाधिकारी शामिल रहे। बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित हुए। अग्निपथ योजना को सरकार ने लागू किया है, यह हिंदू महासभा की जीत है। वीर सावरकर ने यह सपना देखा था। उन्होंने नारा दिया था राजनीति का हिंदू करण एवं हिंदुओं का सैनिककरण अति आवश्यक है। अग्निवीर योजना नौजवानों के लिए वरदान है। हर नौजवान को देश की सेवा करने का मौका मिलेगा। अखिल भारत हिंदू महासभा का एक प्रतिनिधिमंडल भारत के गृह मंत्री से मिलेगा और उन्हें ज्ञापन देकर जुमे की नमाज के बाद पत्थरबाजी करना बहुत बड़ा गुनाह है, ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सख्त कानून बने। तीसरे प्रस्ताव में हिंदू महासभा की गुटबाजी समाप्त करने को विशेष टीम के गठन का निर्णय लिया गया। जो सभी अध्यक्षों से बात कर हिंदू महासभा की गुटबाजी को समाप्त करेगी। इसके अलावा गोरक्षा के लिए भारत सरकार से विशेष कदम उठाने की मांग की। बैठक में जम्मू कश्मीर प्रदेश अध्यक्ष रोमेश चंद्र शर्मा, हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष डा. सर्वेश कुमार, उत्तराखंड के शशि गिरी महाराज, उत्तर प्रदेश अध्यक्ष अरुण चौधरी, बिहार के सचिन आनंद स्वरूप, दिल्ली के अमित सिंह समेत सात प्रदेशों के प्रदेश अध्यक्ष बैठक में उपस्थित रहे। बिहार से स्वामी सच्चिदानंद स्वरूप, उत्तर प्रदेश अध्यक्ष अरुण चौधरी, युवा प्रदेश अध्यक्ष उत्तर प्रदेश शिवम सिंह कंबोज, उत्तराखंड से शशि गिरी, हिमाचल प्रदेश से राजेंद्र सिंह, पंजाब से विश्वास गिरी महाराज समेत उत्तर प्रदेश के प्रमुख जिलों से आए पदाधिकारी जिनमें इटावा के जिलाध्यक्ष सुधीर कुमार कौशल, फर्रुखाबाद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष धीरज पांडे, मुजफ्फरनगर जिला अध्यक्ष मनोज सिंह चौहान, शामली जिला अध्यक्ष दीपक रुहेला, कानपुर जिला अध्यक्ष दीपक कश्यप सहित 11 विशेष आमंत्रित राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य बैठक में शामिल हुए। इसके अलावा अति विशिष्ट अतिथि के रूप में 21 सदस्य भी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में शामिल हुए। अगली बैठक हरियाणा में दिसंबर माह में आयोजित की जाएगी

Edited By: Jagran