जेएनएन, मुजफ्फरनगर। दैनिक जागरण में समाचार छपते ही सरकारी अधिकारियों में अफरातफरी मच गयी। उन्होंने तुरंत ही सफाई कर्मचारी भेजकर गांव में सफाई शुरू करा दी। साथ ही नए वीडीओ को चार्ज देकर गांव में भेज दिया।

दैनिक जागरण में मंगलवार को 'भ्रष्टाचार की शिकायत करना प्रधान को पड़ा महंगा' शीर्षक से समाचार छपते ही अधिकारियों में अफरातफरी मच गयी। तुरंत ही सफाई कर्मचारी भेज कर गांव में साफ-सफाई शुरू कर दी गई है। इतना ही नहीं ग्राम विकास अधिकारी को चार्ज देकर तुरंत ही गांव में भेज कर अन्य कार्यो का भी एस्टीमेट आदि बनवाया गया।

गौरतलब है कि जानसठ के हाशमपुर गांव के प्रधान रवि ने गांव में चुनाव के दौरान की गई अनियमितता की शिकायत की थी, जिससे नाराज होकर अधिकारियों ने उसके गांव से सफाई कर्मचारी को भी हटा लिया था। गांव विकास अधिकारी ने गांव में जाना भी बंद कर दिया था, जिससे गांव में गंदगी के ढेर लगा गए थे। साथ ही गांव के अन्य विकास कार्यो समेत सभी आवश्यक कार्य प्रभावित हो रहे थे। गांव में साफ-सफाई शुरू होते ही लोगों ने दैनिक जागरण को धन्यवाद कहते हुए आभार व्यक्त किया है।

बीडीओ संत कुमार ने बताया कि गांव में ग्राम विकास अधिकारी को चार्ज देकर काम पर लगाया गया है। गांव में कोई भी विकास कार्य नहीं रुकने दिए जाएंगे। प्रधानों का प्रशिक्षण संपन्न

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जानसठ खंड विकास कार्यालय में प्रधानों का प्रशिक्षण कार्यक्रम संपन्न हुआ। मुख्य अतिथि खतौली विधायक विक्रम सैनी ने प्रधानों का बिना भेदभाव के सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का आह्वान किया।

खतौली विधायक ने कहा कि आप को किसी ने वोट दिया या नहीं दिया, सभी के काम होने चाहिए। उन्होंने सभी प्रधानों से उनके गांवों में होने वाले विकास कार्यो की योजना बनाकर शीघ्र खंड विकास कार्यालय में प्रस्तुत करने के लिए कहा है। ब्लाक प्रमुख चौधरी नरेंद्र सिंह ने प्रधानों से कहा कि वह उनकी हर जरूरत में रात-दिन उनके साथ खड़े हैं। सरकारी योजनाओं को ईमानदारी से व बिना किसी भेदभाव के लागू करके उसका प्रचार-प्रसार करें। इस दौरान भूमि विकास बैंक के चेयरमैन ब्रिजेश रस्तोगी, राजीव गुप्ता, बीडीओ संत कुमार, एडीओ पंचायत मुकुटराज के अतिरिक्त सभी गांव प्रधान उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran