मुजफ्फरनगर, जेएनएन। क्षेत्र के एक ईंट भट्ठे पर काम करने के नाम पर कुछ लोगों ने चार लाख से अधिक रुपये ठग लिए। भट्ठा संचालक ने कई दिनों बाद आरोपितों में से दो को दबोच लिया। बाद में आरोपितों पर कई और भट्ठा संचालकों ने लाखों रुपये ठगने का आरोप लगाया है।

गांव निराना में स्थित जैदी ब्रिक फील्ड पर पाल्ला पुत्र मेहरचंद ठेकेदारी करता है। उसे इस सीजन में भट्ठा चलाने के लिए मजदूरों की आवश्यकता थी। मजदूरों की जरूरत को देखते हुए शामली निवासी विनोद उर्फ सुभारत पुत्र सोमवीर ने पाल्ला से संपर्क किया और उन्हें मजदूरों की लेबर दिलाने के नाम पर 4.2 लाख रुपये ले लिए। जिस समय विनोद पैसे लेने आया तो उसके साथ लेबर ठेकेदार रईस पुत्र मजीद निवासी कूकड़ा को साथ लेकर आया था। दोनों ने पैसे लेकर लेबर लाने का वादा कर वहां से चले गए। उसके बाद कई बार दोनों से संपर्क किया तो उन्होंने लेबर के कई आदमी को बीमार होने का बहाना बनाकर और पैसे लेने का दबाव दिया। जिससे पाल्ला को कुछ शक हुआ। उसने जोर देकर लेबर लाने को कहा तो आरोपितों ने मोबाइल बंद कर घर से फरार हो गए। जिस पर भट्ठा मालिक गांव भिक्की निवासी नजरु मियां ने पुलिस को इसकी सूचना दी तो पुलिस ने दोनों आरोपितों का दबोच लिया। उसके बाद आसपास के कई भट्ठा संचालकों ने थाने पहुंचकर बताया कि यह लोग कई मालिकों से ठगी कर चुके हैं। एसओ अजय कुमार ने बताया कि यह लोग एक गिरोह बनाकर भट्ठा संचालकों से लेबर लाने के नाम पर रुपये लेकर हड़प कर जाते हैं। यह अपने साथ महिलाओं को भी रखते हैं, ताकि भट्ठा मालिकों को इन लोगों पर विश्वास आ जाए। इनके गिरोह में कई लोग शामिल हैं। आरोपितों से तहरीर के आधार पर पूछताछ की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस