खतौली(मुजफ्फरनगर) : मेन रोड स्थित कैनरा बैंक में रुपये जमा कराने आए अग्रवाल स्टेशनर्स में काम करने वाले युवक को दो युवक सम्मोहित कर बैंक के गेट के बाहर ले आए और यहां उसे तीन लाख रुपये रखने के बहाने कागज के टुकड़े थमा कर 50 हजार ठग लिए। ठगों की तलाश की गई, लेकिन कुछ पता नहीं लग सका। उनकी पहचान के लिए बैंक के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला गया। पुलिस पीड़ित से पूछताछ कर रही थी।

जमना विहार निवासी मोहित सैनी पुत्र जीतेंद्र सैनी इंदिरा प्रतिमा के पास मेन रोड स्थित राजाराम निवासी प्रवीन अग्रवाल की स्टेशनरी की दुकान पर काम करता है। मंगलवार को दोपहर में दुकानदार ने उसे दुकान के बराबर में स्थित कैनरा बैंक में 50 हजार रुपये जमा कराने के लिए भेजा था। वहां रुपये जमा कराते समय मोहित के पास दो युवक आए। उन्होंने बैंक का फार्म भरने की बातों में उलझाया और उसे बैंक के बाहर ले गए। दोनों ने बताया कि उनके पास रुमाल में तीन लाख रुपये हैं। मोहित को रुमाल में बंधे नोट पकड़ने को कहकर उससे 50 हजार रुपये लेकर भाग गए। उनके जाने के बाद उसने रुमाल खोलकर देखा तो उसमें रुपये की जगह कागज के टुकड़े निकले। यह देखकर उसके होश उड़ गए और वह रोता-बिलखता इधर-उधर भागा। इसके बाद उसने दुकानदार को घटना की जानकारी दी। ठगों की तलाश की गई, लेकिन वे हत्थे नहीं चढे़। पुलिस को सूचित किया गया। एसएसआइ योगेंद्र पंवार मौके पर पहुंचे। मोहित से घटना और युवकों के हुलिए की जानकारी दी। पुलिस ने ठगों की पहचान को बैंक में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को देखा। पुलिस का कहना है कि पीड़ित से घटना के संबंध में पूछताछ की जा रही है।

By Jagran