खतौली (मुजफ्फरनगर): गांव ¨तगाई स्थित तालाब में प्रदूषण से हजारों मछलियां मर गईं। इससे करीब एक लाख रुपये का नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है। तालाब के पट्टेधारक का कहना है कि तालाब में ग्रामीणों द्वारा कूड़ा डाला जा रहा है, जिससे तालाब का पानी प्रदूषित हो रहा है और पानी में आक्सीजन कम हो गया। उन्होंने कई बार प्रशासन ने तालाब में कूड़ा डालने से लोगों को रोकने की मांग की, पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

गांव ¨तगाई में एक तालाब है, जिसका पट्टा सतपाल के नाम है। इस तालाब में मछली पालन किया जा रहा है। सतपाल ने बताया कि करीब गांव के कुछ लोग तालाब में कूड़ा डाल रहे हैं। कुछ लोगों ने अपने शौचालय के पाइप भी तालाब में डाल रखे हैं, जिससे तालाब का पानी प्रदूषित हो रहा है। हाल ही में लोगों द्वारा बहुत सारा कूड़ा तालाब में डालने से तालाब में प्रदूषण बढ़ गया, जिससे कई हजार मछलियां मर गई। इनमें 600 ग्राम से लेकर एक सवा किलो तक मछलियां मरी हैं। उन्होंने करीब एक लाख रुपये का नुकसान होने की आशंका जताई। उन्होंने कहा कि वे कई बार तहसील दिवस व प्रशासनिक अफसरों से शिकायत कर तालाब में कूड़ा डालने से लोगों को रोकने की मांग कर चुके, पर समस्या जस की तस बनी है। उन्होंने प्रशासन से सख्त कार्रवाई की मांग की।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस