अमरोहा: गजरौला के कांकाठेर गांव में मंगलवार को फिर बच्‍चा चोर के शक को लेकर हंगामा मच गया। एक युवक को ग्रामीणों ने घेर लिया और जमकर पिटाई की। इसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया। हालांकि, पुलिस ने उसे विक्षिप्त बताकर छोड़ दिया है। गांव में रेलवे की फाटक के समीप ब'चे कंचे खेल रहे थे। इसी दरम्यान एक व्यक्ति वहां घूमता नजर आया। आरोप है कि एक बच्‍चे को उसने खाने का सामान दिखाया और अपहरण करने की कोशिश की। बच्‍चे के रोने की आवाज सुनकर जमा हुई भीड़ ने उसे पकड़ लिया और बेरहमी से पिटाई की। सूचना मिलते ही पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई। इस पर ग्रामीणों ने उसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया। 

ग्रामीण बोले, जैकेट में बच्‍चे को छिपाकर ले जा रहा था

ग्रामीणों के मुताबिक पूछताछ में युवक ने अपना नाम राजू निवासी बिहार बताया था। वह बच्‍चे को जैकेट में बंद कर ले जा रहा था। उसके रोने की आवाज सुनाई दी तो राहगीरों ने पकड़ लिया। जैकेट में छिपा बच्‍चा गांव के मेवाराम का छोटा बेटा सचिन था, जिसकी उम्र 5 साल है।  उधर ब्रजघाट चौकी के इंचार्ज संदीप कुमार ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा सौंपा गया आरोपित बच्‍चा चोर नहीं बल्कि विक्षिप्त व्यक्ति है। उसके हुलिए से भी यही जाहिर हो रहा है। काली चमड़े की जैकेट पहने है। रोटी मांगता घूम रहा था। ग्रामीणों से उसकी बात कराई गई। वह कोई भी बात सही नहीं बता रहा था। बाद में उनके कहने पर उसे छोड़ दिया गया है।

 

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप