रामपुर (राजीव कुमार)। थाना सिविल लाइंस क्षेत्र में एक बड़ा हादसा होने बच गया। जिसने भी यह नजारा देखा उसके रोंगेटे खड़े हो गए। दरअसल एक महिला यात्री बस से उतरी रही थी कि रोडवेज बस चालक ने बस आगे बढ़ा दी। इससे महिला का संतुलन बिगड़ा और वह पहिये के नीचे आ गई। इस बीच देवदूत बन पहुंचे एक युवक ने उसे बाहर खींचकर जान बचाई।

जाको राखे साईंया मार सके न कोय, ये कहावत गुुरुवार को रामपुर जिले के सिविल लाइंस क्षेत्र में चरितार्थ हुई। थाना सिविल लाइंस के सामने दोमहला रोड निवासी नसरीन जहां कहीं गईं थीं। वह बस से सुबह घर लौट रहीं थीं। घर के पास उन्होंने चालक से बस रुकवाने को कहा। बस के रुकते ही वह उतरने लगीं। इस बीच चालक ने बस को आगे बढ़ा दिया। इससे उनका संतुलन बिगड़ गया। वह बस के पिछले पहिये के नीचे आकर दबने ही वाली थीं कि बस से उतर रहे एक युवक की नजर उन पर पड़ गई। युवक शोर मचाते हुए दौड़ा और समय रहते महिला को पहिये के नीचे से खींच लिया। इससे महिला की जान गई। महिला को पहिये के नीचे आता देखकर आसपास के लोगों की भी चीख निकल गई। महिल ने जान बचाने वाले युवक का आभार जताया। 

बस से उतरते समय इस तरह बरतें सावधानी 

बस से उतरते समय कंडक्टर को सचेत कर दें। जल्दबाजी करने से बचें इससे हादसे की संभावना ज्यादा रहती है। बस से उतरने के तुरंत बाद बस से एकदम दूर हो जाएं। अगर उतरने के तुरंत बाद ही चालक बस को आगे बढ़ा दे तो शोर मचा दें, जिससे कंडक्टर की नजर आप पर पड़ जाए। 

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस