मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Weather in Moradabad : रविवार को दिन भर तेज बारिश से 80 मिमी पानी आसमान से गिरा है। बेमौसम बारिश का पश्चिमी विक्षोम मजबूत होने से दो दिन तेज बारिश का अलर्ट है। सोमवार को भी तेज बारिश होने की सम्भावना है। मंगलवार को भी हलकी बूंदाबांदी हो सकती है। सोमवार को 60 मिमी बारिश होने की भविष्यवाणी मौसम विशेषज्ञों ने की है। यानि रविवार की 80 और सोमवार को 60 मिमी मिलाकर करीब 10 मिमी बारिश होने की उम्मीद है। बहुत मजबूत पश्चिमी विक्षोभ के कारण बेमौसम बारिश हुई है। इस बारिश के बाद अब आगे बारिश से इन्कार कर रहे हैं। सर्दियों में बारिश हो सकती है।

पूरे देश भर में बारिश हुई है। जिसका असर मुरादाबाद में भी तेज रहा। रविवार को दिन में 46 मिमी बारिश हुई लेकिन शाम तक 80 मिमी दर्ज की गई। बारिश से बढ़ता प्रदूषण भी धुल गया। मुरादाबाद का प्रदूषण स्तर 225 एक्यूआइ के आसपास पहुंच गया था। लेकिन, रविवार की शाम पांच बजे घटकर 175 एक्यूआइ रह गया। पर्यावरण में उड़ते धूल के बरीक कण बारिश के कारण नीचे आ गए। जिससे पीएम-10 और एसपीएम की मात्रा घटी। पीएम-10 से अधिक भारी एसपीएम के कण होते हैं। यह भारी कण भी बारिश से कम हो गए हैं। बागपत और गाजियाबाद को छोड़ दिया जाए तो पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश से प्रदूषण का स्तर कम हुआ है। बागपत में प्रदूषण का स्तर 300 एक्यूआइ से अधिक है जबकि गाजियाबाद भी रेड जोन को छू चुका है। गाजियाबाद में 299 एक्यूआइ दर्ज किया गया है।

कई जगहों पर गुल रही ब‍िजली : रविवार को मौसम ने सभी के अरमानों को धो डाला। छुट्टी के दिन बारिश की वजह से लोग बाहर नहीं जा सके तो वहीं बत्ती गुल होने से घरों में रुकना भी मुहाल हो गया। शहर के साथ ही आसपास के क्षेत्रों की बत्ती गुल हो गई। आलम ये हो गया कि फीडरवार बिजली गुल होने के बाद कुछ ही देर में आपूर्ति सुचारू तो कर दी गई लेकिन, देर शाम तक सभी जगह ट्रिपिंग का सिलसिला जारी रहा। बिजली विभाग के अधिकारियों का दावा था कि लाइनों के ऊपर से गुजर रही हाइटेंशन लाइनों से पेड़ की टहनियां काटी गई हैं। लेकिन, बेमौसम बारिश की वजह से बुद्धि विहार सेक्टर एक, दो में सुबह से शाम तक बत्ती गुल रही।

 

Edited By: Narendra Kumar