मुरादाबाद, जेएनएन। प्रधानमंत्री स्व निधि योजना के तहत पंचायत भवन में मंगलवार को वेंडरों को 10000 रुपये ऋण दिया गया। कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए 50 वेंडर बुलाए गए। इन सभी को जिलाधिकारी राकेश कुमार, महापौर विनोद अग्रवाल, नगर आयुक्त संजय चौहान ने 10000 रुपये खाते में पहुंचने के बाद प्रमाण पत्र बांटे। महानगर में 18173 वेंडर हैं। इनमें 4441 वेंडर के खाते में पैसा भेजा गया है। पंचायत भवन में इससे पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वर्चुअल संवाद वेंडरों ने सुना।

चेहरे पर खुशी झलकी

10000 रुपये का ऋण पाकर सभी के चेहरे पर खुशी झलक उठी। नागफनी की महिला वेंडर अनीता का कहना है कि वह नागफनी में सब्जी का फड़ लगाती हैं। इस पैसे से फड़ में और ज्यादा सामान रख अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को ठीक करने में मदद मिलेगी। लालबाग की रेहाना परवीन 10000 रुपये का प्रमाण पत्र पाकर खुश हो गई। वह लालबाग में चूड़ी बेचती हैं। 

शहरी पथ विक्रेता को भी मिली 51 दुकानें

शहरी पथ विक्रेता को सहायता योजना के तहत नगर निगम ने 51 वेंडरों को दुकाने दीं। मॉडल वेंडिंग जोन बगला गांव चौराहे से कुक्कुट शाला रोड तक स्थापित किया है। जिसका उद्घाटन मंगलवार को महापौर विनोद अग्रवाल और नगर आयुक्त संजय चौहान ने किया। यह वेंडर टाउन हॉल चौराहे से दो साल पूर्व हटाए गए थे। 125 ओवरों में 51 को टेबल दुकाने मिली हैं। महापौर विनोद अग्रवाल ने कहा कि वेंडरों को यह दुकानें मिलने से उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी होगी। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस