मुरादाबाद : सीबीएसई 12वीं जिला टॉप करने वाली सेंट मैरीज सीनियर सेकेंडरी स्कूल की तानिया घई का सपना प्रोफसर बनने का है। वह प्रोफेसर बनकर शिक्षा की बेहतरी में योगदान देना चाहती हैं। बताया कि पूरे साल लगातार पढ़ाई करके यह उपलब्धि हासिल की है। हरथला कालोनी निवासी तानिया कहती हैं कि जो सत्र के पहले दिन से ही पढ़ाई पर ध्यान देते हैं और अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की सोचते हैं वहीं अच्छे अंक प्राप्त करते हैं। स्कूल में जो पढ़ाया जाए उसके नोट्स तैयार करके पढ़ाई करें और मानसिक तनाव कतई नहीं लेना चाहिए। कहती हैं कि सोशल मीडिया पर किसी भी विषय का लेक्चर समझने से फंडा और क्लियर हुआ। 12वीं के बाद अब वह दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक करेंगी। तानिया के पिता विवेक घई रेलवे के पार्सल विभाग में कार्यरत हैं और माता रजनी घई गृहणी हैं और बड़ी बहन दीक्षा घई ने दिल्ली विश्वविद्यालय से एमएससी किया है। तानिया के जिला टॉप होने पर परिवार में खुशी का ठिकाना नहीं रहा। परिणाम के समय तानिया अपनी बहन के साथ स्कूल गई, जब पता चला कि वह जिला टॉपर हैं तो फोन करके अपने मम्मी-पापा को बताया। उस समय माता-पिता घर से बाहर किसी काम से बाहर गए हुए थे। घर वापस आने पर उन्होंने बेटी को मिठाई खिलाकर आशीर्वाद दिया।

--------------

फोटो

नोट्स तैयार करके पढ़ें गाइड से नहीं: श्रेया

जिले में दूसरे स्थान पर रहीं पीएमएस स्कूल की रामगंगा विहार निवासी श्रेया अग्रवाल ने 97.2 फीसद अंक हासिल किए हैं। पिता अमित अग्रवाल का मसालों का कारोबार करते है और माता प्रज्ञा अग्रवाल गृहणी हैं। बेटी के साथ स्कूल पहुंचे तो उनके चेहरे पर मुस्कान थी। स्कूल पहुंचने पर प्रधानाचार्य मैथ्यूज ने उन्हें मिठाई खिलाकर हौसला बढ़ाया। श्रेया कहती हैं कि स्कूल में जो पढ़ाया जाए उसके अच्छी तरह नोट्स तैयार करके पढ़ें। गाइड का सहारा न लें। साल में तीन से चार बार सिलेबस का पुन: अध्ययन करें। श्रेया सीए बनना चाहती हैं।

Posted By: Jagran