जासं, ठाकुरद्वारा :

युवाओं की नशों में जहर घोलने वाले नशे के चार सौदागरों को महिला समेत पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उनके कब्जे से 250 गाम स्मैक, नौ नशीले इंजेक्शन, 23 मोबाइल और 1.23 लाख की नकदी बरामद की है। छापेमारी के दौरान दो लोग मौके से भागने में कामयाब हो गए। उक्त लोगों का नेटवर्क दूसरे प्रदेशों तक फैला हुआ। ऑनलाइन नशे की आपूर्ति की जा रही थी। सलीम के साथ मिलकर महिला जेहरा पूरे नेटवर्क को चला रही है। आरोपितों की निशानदेही पर उनके बाकी अड्डों पर भी छापेमारी की जा रही है।

गुरुवार को कोतवाली पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने चलचित्र ढाल के पास नई बस्ती और माता मंदिर रोड पर छापा मारा। सबसे पहले टीम ने सलीम अहमद के घर पर छापेमारी की, जहां से सलीम के साथ उसके बेटे नावेद को पकड़ लिया। घर के अंदर से 23 मोबाइल, एक टेबलेट, स्मैक की पुड़िया एवं नकदी बरामद की है। उसके बाद टीम ने माता मंदिर रोड स्थित साजिद के घर पर छापा मारा। वहां टीम को देखते ही साजिद पीछे रास्ते से निकलकर फरार हो गया। उसके घर में नशे का धंधा उसकी पत्‍‌नी जेहरा करती है। पुलिस ने जेहरा और वहां पर सामान की खरीदारी कर रहे फतेहउल्लागंज निवासी लियाकत हुसैन को पकड़ लिया। पुलिस ने घर के अंदर से तलाशी के दौरान स्मैक की पुडि़यां और इंजेक्शन बरामद किए हैं। क्राइम ब्रांच के प्रभारी केपी सिंह ने बताया कि दोनों स्थानों से करीब ढाई सौ ग्राम स्मैक बरामद हुई है, जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत पच्चीस लाख रुपये है, साथ ही नौ नशे के इंजेक्शन और एक लाख 23 हजार 75 रुपये की नगदी एवं 23 मोबाइल एवं एक टेबलेट बरामद हुआ है। चारों मुल्जिमों से पूछताछ के आधार पर उनके बाकी ठिकानों पर छापामारी की जा रही है। पकड़े गए आरोपित एक बड़ा नेटवर्क चला रहे हैं।

-----------

वर्जन :

क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में नशे के चार सौदागरों को पकड़ा है, जिनका नेटवर्क दूसरे प्रदेशों तक जुड़ा है। ऑनलाइन नशीले इंजेक्शन और स्मैक सप्लाई करते हैं। शिक्षण संस्थानों तक उनके तार जुड़े हुए हैं। पुलिस सभी से गहनता से पूछताछ कर रही है। उनके बाकी अड्डों का भी पता लगाया जा रहा है।

-जे रविन्दर गौड, एसएसपी।

...

बाक्स में ..(1)

मोबाइल फोन से फंसेंगे दर्जनों कारोबारी

ठाकुरद्वारा : स्मैक तस्करों के अड्डे से एसओजी को दो दर्जन मोबाइल फोन मिले हैं तथा एक टेबलेट भी है। इनमें दर्ज नंबरों से दर्जनों लोगों की स्मैक कारोबार में संलिप्ता का पर्दाफाश हो सकेगा। पुलिस सभी लोगों से पूछताछ करने की तैयारी कर रही है।

नगर में गुरुवार को सुबह एसओजी ने छापामार कार्रवाई कर नई बस्ती में सलीम अहमद और माता मंदिर रोड से साजिद के घर कार्रवाई की। भारी मात्रा में स्मैक के साथ ही 23 स्मार्ट फोन भी मिले हैं। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि पाच सौ रुपये स्मैक की पुड़िया बेचते थे। नशे की तलब लगने पर कई लोग मोबाइल जमा कर स्मैक की पुड़िया ले जाते थे। पैसे वापस आने पर मोबाइल फोन दे दिया जाता था। इस कार्रवाई के बाद मोबाइल नंबरों के आधार पर न सिर्फ नशेड़ियों का खुलासा होगा, बल्कि धंधे में संलिप्त लोग भी बेनकाब हो जाएंगे। पुलिस मोबाइल नंबरों के आधार पर सूची बना रही है। पुलिस का मानना है कि मोबाइल नंबरों के आधार पर ही तस्करों का भी खुलासा होगा। कोतवाल मनोज कुमार के अनुसार आरोपियों से पूछताछ चल रही है।

.......

बाक्स (2) सालों से फल फूल रहा नशे का कारोबार

ठाकुरद्वारा : नगर में स्मैक का धंधा सालों से फल फूल रहा था। शिकायत भी आला अफसरों को लगातार मिल रही थी, लेकिन स्थानीय पुलिस हरकत में नहीं आई। नतीजा, गुरुवार को क्राइम ब्रांच की कार्रवाई में स्मैक तस्करी का भंडाफोड़ कर दिया।

नगर में नशे का कारोबार रोजाना बढ़ता जा रहा है। चरस व गाजा के बाद स्मैक के महंगे नशे के शौकीन भी नगर से लेकर गावों तक पैदा हो गए हैं। इनका शौक पूरा करने के लिए नशे के तस्कर खुलकर खेलने लगे हैं। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उत्तरखंड, दिल्ली समेत कई प्रदेशों के तस्कर नगर नशा कारोबारियों से जुड़े हैं और स्मैक सप्लाई करते हैं। पुलिस के भी पहले भी कई बार मामले संज्ञान में आ चुके हैं। थोड़ी बहुत मात्रा में स्मैक बरामद करके हल्की कार्रवाई के बाद मामला रफा दफा कर दिया जाता रहा है।

.........

By Jagran