रामपुर, जेएनएन। UP Vidhan Sabha Election 2022 : बसपा ही नहीं अब कांग्रेस भी दूसरे दलों से आ रहे लोगों को हाथों-हाथ टिकट दे रही है। उसके अपने प्रत्याशी घोषित होने के बाद भी पार्टी छोड़ कर भाग रहे हैं। ऐसे में दूसरे दलों से आ रहे नेताओं को ही प्रत्याशी बना रहे हैं। स्वार- टांडा सीट से राम रक्षपाल सिंह उर्फ राजा ठाकुर को प्रत्याशी बनाया है। वह एक दिन पहले ही बसपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं। मिलक सुरक्षित सीट से कुमार एकलव्य वाल्मीकि को प्रत्याशी बनाया है।

रामपुर में कांग्रेस की जितनी किरकिरी इस बार हुई है। ऐसी पहले कभी नहीं हुई।

उसके दो प्रत्याशी टिकट मिलने के बाद भी पार्टी छोड़ गए। इनमें चमरौआ के पूर्व विधायक युसूफ अली तो टिकट मिलने के अगले दिन ही समाजवादी पार्टी में चले गए थे, लेकिन वहां टिकट नहीं मिला तो फिर कांग्रेस में लौट आए। कांग्रेस के टिकट पर ही नामांकन भी करा दिया है। इसी तरह स्वार - टांडा सीट से घोषित प्रत्याशी हैदर अली खान उर्फ हमजा मियां भी कांग्रेस छोड़ गए। वह अपना दल में शामिल हो गए । अब भाजपा गठबंधन दल से चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस ने अब स्वार -टांडा सीट से राम रक्षपाल सिंह को प्रत्याशी बनाया गया है।

वह बसपा में थे और एक दिन पहले ही कांग्रेस में शामिल हुए। मिलक सुरक्षित सीट से युवक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष कुमार एकलव्य को प्रत्याशी बनाया गया है। इस सीट से महिला प्रत्याशी बनाए जाने की उम्मीद जताई जा रही थी। इसके लिए महिलाओं से आवेदन भी लिए गए थे। लेकिन, ऐसा नहीं हो सका। रामपुर में पांच विधानसभा सीटें हैं, किंतु कांग्रेस ने एक भी सीट पर महिला को प्रत्याशी नहीं बनाया है।

Edited By: Samanvay Pandey