मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। कोर्ट ने गैंगस्टर एक्ट के आरोपित को दो वर्ष के कठोर कारावास के साथ पांच हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है। थाना जीआरपी में तैनात सुधीर कुमार ने वर्ष 2019 में हैदर अली निवासी जयंतीपुर मझोला के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा कराया था। जिसकी विवेचना पूरी करके चार्जशीट गैंगस्टर स्पेशल कोर्ट में 14 अक्टूबर 2020 को दाखिल की थी।

काेर्ट में बचाव पक्ष ने दलील दी थी,कि उसे मुकदमे में फर्जी तरीके से पुलिस ने फंसाया है। वही इस मामले में विशेष लोक अभियोजक राजीव कुमार त्यागी ने अदालत को बताया कि आरोपित असामाजिक गतिविधियों में संलिप्त रहता है। अपनी संदिग्ध गतिविधियों से आर्थिक लाभ लेता है। अदालत ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद आरोप‍ित को गैंगस्टर एक्ट के तहत आरोपित दो वर्ष के कठोर कारावास के साथ पांच हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।

चोरी के शक में युवक को पीटा : रामपुर के बिलासपुर में चोरी के शक में दुकान स्वामी समेत अन्य लोगों ने एक युवक को बुरी से तरह मारपीट कर घायल कर दिया। इस दौरान मौके पर पहुंचे स्वजनों द्वारा घायल युवक को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। मामला नगर के माटखेड़ा मार्ग पर ईदगाह के पास का है। एक युवक संदिग्ध अवस्था में एक व्यापारी की दुकान के पास घूम रहा था। इसी दौरान अचानक अपने घर से निकलकर व्यापारी बाहर आ गया और युवक को चोरी के शक में पकड़ लिया। युवक को पकड़ लेने के बाद उसने उसकी पिटाई शुरू कर दी। व्यापारी द्वारा पिटाई करते देख वहां आसपास के लोग आ गए। बाद में सभी ने मिलकर युवक को पीटना शुरू कर दिया। लोगों की पिटाई से युवक बेहोश हो गया। बाद में किसी ने घटना की सूचना युवक के स्वजनों समेत पुलिस को दे दी। राहगीरों ने उसे नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। इसी बीच घायल के स्वजन भी अस्पताल पहुंच गए। घायल की हालत नाजुक देख डॉक्टरों ने हायर सेंटर रेफर कर दिया। प्रभारी निरीक्षक इन्द्रेश कुमार सिंह ने कहा कि मामला उनके संज्ञान में आया है। मामले की जांच की जा रही है। तहरीर आने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Narendra Kumar