मुरादाबाद, जेएनएन। गन्ना किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए लगाये गये गन्ना पर्यवेक्षकों की हकीकत जानने निकले जिला गन्ना अधिकारी ने गन्ना पर्यवेक्षकों के न मिलने पर स्पष्टीकरण तलब किया है। गन्ना पर्यवेक्षक मंगल सिंह और तिरेंद्र का एक-एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिए हैं। गन्ना विकास परिषद ठाकुरद्वारा के अंतर्गत आने वाले जहांगीरपुर होशपुरा, बमनिया पट्टी एवं तिगरी गांव में सर्वे किया। सर्वे के दौरान चीनी मिल रानी नांगल के जोन इंचार्ज सुमित चौधरी और सुनील कुमार भीे अनुपस्थित मिले।

किसानों को घोषणा पत्र वितरित करने में लापरवाही पर तिगरी के गन्ना कर्मचारी ज्ञानेन्द्र सिंह तोमर एवं सर्वे में उदासीनता बरतने पर ठाकुरद्वारा के ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक देवेन्द्र कुमार तिवारी से स्पष्टीकरण तलब किया गया है। डीसीओ ने गन्ना विकास परिषद ठाकुरद्वारा अंतर्गत किसान अजब सिंह, राजपाल सिंह, सुक्खा सिंह, रमेश और श्यामलाल के खेत का सर्वे किया गया।

वर्जन

गन्ना किसानों के खेत का सर्वे करने में लगे गन्ना पर्यवेक्षकों की अनुपस्थिति गैर जिम्मेदाराना है। अभी तो एक दिन का वेतन काटा है, दोबारा अनुपस्थित मिले तो शासन को सख्त कार्रवाई के लिए पत्र लिखा जाएगा। ठाकुरद्वारा में जहां पर निरीक्षण किया गया है वहां पर टिड्डी दल का खतरा नहीं है। डॉ. अजय सिंह, जिला गन्ना अधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस