मुरादाबाद (जेएनएन)। इंसानियत अभी भी जिंदा है। तभी तो दो अंजान शख्स बजरंगी भाईजान की भूमिका निभाते हुए एक अनभिज्ञ मासूम की मदद में बेधड़क आगे बढ़ निकले। उन्होंने बच्ची को मंजिल तक पहुंचाने के बाद ही राहत की सांस ली। बच्ची के घर पहुंचने पर परिवार वालों के खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

अस्पताल में कैसे बिछड़ गई बच्ची

डिलारी थाना क्षेत्र के ग्राम ढकिया जट निवासी नसीम तीन बेटियों के पिता हैं। वह फेरी लगाकर दरी बेचते हैं। नसीम की सात वर्षीय बेटी अक्सा अपनी चचेरी बहन फरहा के साथ जिला मुख्यालय पहुंची। दवा के लिए दोनों जिला अस्पताल आए। दोपहर करीब बारह बजे भीड़ से खचाखच भरे अस्पताल में दोनों का साथ छूट गया। अक्सा अपनी चचेरी बहन की तलाश पूरे अस्पताल परिसर में करती रही। न मिलने पर उसके आंसू निकल आए। तब होमगार्ड के दो जवानों की नजर बच्ची पर गई। जवानों ने घटना की जानकारी वहां खड़े दो युवकों को दी।

नाम पता पूछकर बच्ची को बाइक से पहुंचाया घर

इस पर सलमान खान व सौरभ राघव बच्ची का नाम पता जानने में जुटे। बच्ची को बाइक पर साथ लेकर दोनों युवक जिला मुख्यालय से 37 किमी दूर उसके गांव रवाना हो गए। डेढ़ घंटे की यात्रा के बाद बच्ची को लेकर दोनों युवक उसके घर पहुंचे। अक्सा को उसके परिजनों के हवाले किया। फिर तो अक्सा अपनी मां भूरी के गले लिपट कर रोने लगी। जब युवक आने लगे तो बच्ची ने हाथ हिलाकर दोनों का शुक्रिया किया। इस वाकये ने दोनों युवकों को बजरंगी भाई जान फिल्म की याद दिला दी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021