मुरादाबाद : हाईवे पर तेज गति से दौड़ रहे ट्रक को ओवरटेक करने पर रोडवेज बस के चालक व परिचालक को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। वारदात को फिल्मी अंदाज में अंजाम देने वालों ने बस में बैठी सवारियों के साथ अभद्रता की। मारपीट के दौरान रोडवेज में बैठी सवारियों में दहशत फैल गई और डर कर इधर-उधर भागने लगी।

घटना मंगलवार सुबह साढ़े 11 बजे रामपुर जिले के मिलक क्षेत्र में नगला उदई गांव के पास हाईवे पर हुई। जिला बिजनौर के थाना हेमपुर के नईपुरा गांव निवासी रोडवेज चालक सतनाम ¨सह और परिचालक नजीबाबाद के मुहल्ला मकबरा निवासी अशोक कुमार शुक्ला नजीबाबाद डिपो की बस लेकर कानपुर जा रहे थे। सुबह 11 बजे धमोरा के पास तेज गति से दौड़ रहे ट्रक को सतनाम ¨सह ने ओवरटेक किया। ट्रक चालक ने ट्रक की गति और तेज कर दी। रोडवेज को ओवरटेक करने के प्रयास में ट्रक का साइड मिरर टूट गया। ट्रक चालक ने फोन कर अपने साथियों को हाईवे पर ट्रक खड़ा करने को कहा। मोंगा ढाबा पर सैंकड़ों की संख्या में ट्रक चालक खाना खाने के लिए रुकते हैं। ढाबे के सामने हाईवे पर ट्रक चालकों ने तीन ट्रक सड़क पर खड़ा कर रास्ता बंद कर दिया। जैसे ही रोडवेज बस आई ट्रक के चालक और उसके साथियों ने रोडवेज बस के चालक और परिचालक पर लोहे की रॉड आदि से हमला बोल दिया। एक दर्जन से अधिक लोगों की भीड़ को हमला करता देख, रोडवेज चालक और परिचालक बस से कूद गए। भीड़ ने दोनों का पीछा कर उन्हें दबोच लिया और उनकी पिटाई शुरू कर दी। रोडवेज चालक और परिचालक को बचाने के लिए आई सवारियों के साथ भी हाथापाई की। जान बचाने की कोशिश करते हुए चालक सतनाम ¨सह और परिचालक अशोक कुमार शुक्ला ढाबे के अंदर छिप गए। मौके पर पहुंची पुलिस को देख मारपीट कर रहे आरोपी फरार हो गए। पुलिस रोडवेज बस और उसके चालक व परिचालक को लेकर कोतवाली आई। सतनाम ¨सह और अशोक का मेडिकल कराया। उनकी तहरीर लेकर पुलिस ने नया गांव निवासी मोहम्मद आदिल व खालिद और एक अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली।

Posted By: Jagran