मुरादाबाद। आधुनिक युग में सुविधाओं के विस्तार ने सबसे अधिक पर्यावरण को ही चोट पहुंचायी है। पॉलीथिन आज मानव जाति के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द बन गया है। नष्ट न होने के कारण यह भूमि की उर्वरा क्षमता को खत्म कर रहा है और भूजल स्तर को घटा रहा है। प्रदेश सरकार ने 15 जुलाई से पॉलीथिन पर प्रतिबंध लगाने के आदेश दे दिए हैं। इसे लेकर चन्दौसी के व्यापारियों ने संकल्प लिया है कि वह सरकार की इस मुहिम में पूरा सहयोग करेंगे और बाजारों में घूमकर लोगों को जागरूक भी करेंगे।

नगर पालिका सभागार में हुई बैठक नगर पालिका सभागार में व्यापार मंडल के पदाधिकारियों की हुई बैठक में वक्ताओं ने कहा कि योगी सरकार के आदेश के अनुरूप विभिन्न प्रकार की प्लास्टिक का दुरुपयोग रोका जाए, जिससे हो रहे प्रदूषण को दूर किया जा सके। पालिकाध्यक्ष इंदूरानी ने कहा कि पॉलीथिन को प्रदेश सरकार द्वारा 15 जुलाई से बैन कर दिया गया है। अब हम सबको साथ मिलकर पॉलीथिन का बहिष्कार करना चाहिए ताकि आने वाली पीढ़ी को स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छ चन्दौसी, स्वस्थ चन्दौसी मिल सके। हम लोगों को संकल्प लेना चाहिए कि हम इकोफ्रेंडली बैग या पेपर बैग का इस्तेमाल करेंगे। शामिल होंगे सरकार की मुहिम में व्यापारी नेता अर¨वद गुप्ता ने कहा कि हम सब व्यापारी सरकार की इस मुहिम में शामिल होंगे लेकिन सरकार भी व्यापारियों के हितों को ध्यान में रखे। जो माल रह गया है उसको खत्म करने का समय दिया जाए। प्रेम ग्रोवर ने कहा कि हम सब व्यापारी प्लास्टिक से हो रहे कैंसर को दूर करने के लिए जो प्रयास हो सकते हैं, वह करेंगे। बाजार में घूम घूम कर व्यापारियों को जागरूक करेंगे। भाजपा नगराध्यक्ष पंकजश्री ने कहा कि हम व्यापारी भाई अब इस मिशन में शामिल होने के लिए उपभोक्ता को दिए जा रहे सामान के साथ इकोफ्रेंडली बैग देंगे। राजकुमार ठाकरे ने कहा कि हम पर्यावरण व स्वच्छता के लिए पन्नी का व्यापार बंद कर देंगे।

बैठक में ये व्यापारी हुए शामिल

अंकुर अग्रवाल, राहुल अग्रवाल, मोहित कुमार, मुकेश कुमार, गिरिराज किशोर, सुशील कुमार, नीरज कुमार, कमल कुमार, प्रमोद कुमार, अंकित जैन, हरिगोपाल वाष्र्णेय, विनय सर्राफ, ज्योति प्रकाश गोयल, राजीव कुमार आदि मौजूद रहे। संचालन अधिशासी अधिकारी मनोज रस्तोगी ने किया।

By Jagran