आपत्तिजनक टिप्पणी में अब्दुल्ला आजम समेत दो की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में दर्ज मुकदमे में रामपुर जनपद के स्वार से विधायक अब्दुल्ला आजम व पूर्व पालिका अध्यक्ष अजहर खान कि अग्रिम जमानत याचिका को एडीजे चार की कोर्ट ने सुनवाई के बाद खारिज कर दिया। मुरादाबाद के कटघर स्थित मुस्लिम डिग्री कॉलेज में 30 जून 2019 को रामपुर के नवनिर्वाचित सांसद मुहम्मद आजम खां के सम्मान में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में मुरादाबाद सांसद डॉ. एसटी हसन, रामपुर के स्वार विधायक अब्दुल्ला आजम खां शामिल हुए थे।

गंगा नदी में आधुनिक तरीके से हो रही डॉल्फिन की गणना, ब्रिटेन से पहुंची टीम

 गजरौला के पतित पावनी गंगा नदी में डॉल्फिन की गणना के लिए ब्रिटेन से आई वर्ल्‍ड वाइल्ड फंड की टीम ने गजरौला में डेरा डाल दिया है। टीम ब्रजघाट और नरोरा के बीच यह पता लगा रही है कि यहां कितनी डॉल्फिन हैं। गणना आधुनिक तरीके से की जा रही है। टीम के सदस्य डॉल्फिन दिखाई देने वाले स्थान को जीपीएस से चिन्हित कर गूगल मैप पर उनकी लोकेशन देखकर गिनती कर रहे हैं। 

दिल्ली की किशोरी से छेड़छाड़ में चार साल कैद की सजा 

दो साल पहले मामा के घर आई किशोरी के साथ छेड़छाड़ के मुकदमे में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने फैसला सुनाया है। छेड़छाड़ में दोषी मानते हुए युवक को चार साल कैद की सजा सुनाई है। किशोरी के अधिवक्ता मुबश्शर अली के मुताबिक घटना 31 मई 2017 की है। नई दिल्ली के भजनपुरा की रहने वाली किशोरी केमरी थाना क्षेत्र के चकिया हयातनगर गांव में मामा के घर आई थी। घटना की रात करीब 11 बजे वह शौच के लिए घर से बाहर निकली तो रास्ते में भोट थाना क्षेत्र के किसरौल गांव का यासीन पुत्र अमीर दूला मिल गया। उसने किशोरी का हाथ पकड़कर खींच लिया और उसे बुरी नीयत से दबोच लिया।

यूपी पुलिस को मिलीं 74 महिला दारोगा, अमेठी की ऋचा मिश्रा सर्वांग सर्वोत्तम

उत्तर प्रदेश पुलिस को 74 महिला दारोगा मिल गईं। मुरादाबाद पीटीसी ( पुलिस प्रशिक्षण कालेज) में मंगलवार को सुबह पासिंग आउट परेड हुई। इसमें एडीजी ब्रजराज ने परेड की सलामी ली और उनको कर्तव्यनिष्ठा की शपथ दिखाई। अमेठी की रहने वाली ऋचा मिश्रा सर्वांग सर्वोत्तम चुनी गईं। उन्होंने ही परेड का नेतृत्व भी किया। कुल 91 प्रशिक्षु महिला दारोगाओं का प्रशिक्षण 17 सितंबर 2018 को शुरू हुआ था। इनमें से 17 परीक्षा पास नहीं सकीं। सभी महिला दारोगा मृतक आश्रित हैं।

घर में रखा सिलेंडर कहीं बन जाए बम, बरतें ये सावधानी

आज रसोई गैस का सिलेंडर हर घर की जरूरत बन चुका है। इसके बिना घर में लोगों को एक कप चाय तक नसीब नहीं हो पाती लेकिन, यही सिलेंडर छोटी सी लापरवाही के कारण बम बन सकता है। गत सोमवार को मऊ में आग लगने के बाद गैस सिलेंडर बम की तरह फट गया। इसमें 13 लोगों की जान चली गई और 24 घायल हो गए। ऐसी घटनाओं से बचने के लिए गैस सिलेंडर कंपनी की ओर से नियम और मानक बनाए गए हैं। 

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप