पत्नी व चार माह के बेटे की हत्या के बाद सर्राफ ने खुद को भी गोली से उड़ाया

रामपुर में बिलासपुर तहसील क्षेत्र के गांव डिबडिबा सुभाष नगर कॉलोनी निवासी सराफा व्यापारी ने पहले पत्नी और चार साल के बेटे को गोली मारी। बाद में खुद भी गोली मारकर खुदकशी कर ली। घटना उत्तराखंड के रुद्रपुर की कालोनी की है, जिसका थाना रामपुर जनपद का बिलासपुर लगता है। सूचना पर बिलासपुर कोतवाली पुलिस पहुंच गई है। चर्चा है कि सराफा व्यापारी पर काफी कर्ज था।  इसी के चलते उसने इस दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देने के बाद खुद को भी गोली मार ली।

गैस कटर से काटा जा रहा नवाब खानदान का स्ट्रांग रूम का ताला

रामपुर के नवाब खानदान के स्ट्रांग रूम में हीरे जवाहरात भरे हैं। इसको गुरुवार दोहपर में कोर्ट कमिश्नर और प्रशासनिक अधिकारियों की निगरानी में खोलने का काम शुरू किया गया। चाबी नहीं मिलने पर गैस कटर को मंगाया गया। कटर से स्ट्रांग रूम को काटने का काम शुरू हो गया है। इसमें करीब तीन से चार घंटे लग सकते हैं। नवाब मिक्की मियां खानदान की संपत्ति में कुल 16  हिस्सेदार हैं। संपत्ति के बंटवारे के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेशों पर कार्रवाई चल रही है। दो कोर्ट कमिश्नर के साथ प्रशासनिक टीम भी है। दो दिन पहले नवाब खानदान के शस्त्रागार को खुलवाया गया था। इसकी वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी होने पर दूसरे पक्ष ने आपत्ति जताई थी।

 विधायक महबूब अली के भाई-भतीजों व पड़ोसियों के बीच चले लाठी-डंडे, पथराव में कई लोग घायल 

अमरोहा के रजबपुर में शहर विधायक महबूब अली के भाई-भतीजों की उनके पड़ोसियों के साथ विवाद हो गया। कहासुनी से शुरू हुआ विवाद लाठी-डंडों और फिर पथराव में बदल गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराते हुए कुछ लोगोंं को हिरासत में भी ले लिया। रजबपुर  कस्बे के शकरपुर रोड पर मंजूर अहमद  व  विधायक महबूब अली के भाई महमूद अली उर्फ भूरे का मकान है। दोनों के बीच कल भी विवाद हुआ था। दोनों तरफ से मुकदमे भी दर्ज कराए  गए  थे। गुरुवार सुबह आठ बजे महमूद  अली के पक्ष के शकरपुर निवासी सलमान रजबपुर  जा रहे  थे। 

नवाब खानदान के हथियारों के जखीरे में है आठ फीट लंबी बंदूक, एक साथ निकलते थे हजारों छर्रे 

नवाब खानदान के हथियारों के जखीरे में आठ फीट लंबी बंदूक भी है। विदेशी कंपनी द्वारा बनाई गई यह बंदूक किले की दीवार से चलती थी और आधा किलोमीटर तक मार करती थी। इससे एक साथ दो हजार छर्रे निकलते थे। कोठीखास बाग में नवाब खानदान के हथियारों के जखीरे से ही यह बंदूक मिली है। नवाब खानदान के हथियारों के जखीरे में यूं तो हजारों हथियार शामिल हैं, जिसमें पिस्टल, रिवाल्वर, रायफल, बंदूक, छुरी व तलवारें शामिल हैं। लेकिन, कई हथियार ऐसे हैं जो सबसे खास हैं। इन हथियारों में एक ऐसी बंदूक है, जिसकी लंबाई आठ फीट है। 

मझोला में दिव्यांग ने ट्रेन के आगे कूदकर की खुदकशी

मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र के एक दिव्यांग ने ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इस घटना से मृतक के परिवार में कोहराम मचा हुआ है। मझोला थाना क्षेत्र के गांव शाहपुर तिगरी निवासी 28 वर्षीय बच्चू सिंह एक पैर से दिव्यांग थे। गुरुवार को वह दिल्ली रेल लाइन पर सिविल लाइन थाना क्षेत्र के विशनपुर भीमा ठेर गांव के पास मुरादाबाद की तरफ से आ रही काठगोदाम एक्सप्रेस के आगे लेट गए और ट्रेन उनके ऊपर से गुजर गयी। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इसकी सूचना गेटमैन पिंटू ने रेलवे कंट्रोल रूम को दी। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस