रामपुर, जेएनएन। कुछ लोगों में बचपन से ही खेलकूद का जुनून होता है और कुछ लोगों में घूमने-फिरने और मस्ती करने का। कुछ विरले ही होते हैं जिनमें पढ़ाई भी एक जुनून की तरह घर कर जाती है। उनमें पढऩे की लगन इस कदर होती है कि उनके लिए कोई भी लक्ष्य अंतिम नहीं होता। वो हमेशा एक के बाद एक नया लक्ष्य बनाते जाते हैं। इस बात को सिद्ध कर रहे हैं जिले में तैनात ज्वाइंट मजिस्ट्रेट गौरव कुमार। आइएएस बनने के बाद भी उनका पढ़ाई का जुनून खत्म नहीं हुआ। अब वह नगर के राजकीय रजा डिग्री कॉलेज में इग्नू से समाजशास्त्र में परास्नातक के अंतिम वर्ष की परीक्षा दे रहे हैं।

सर्विस वालों के लिए उपयोगी है दूरस्‍थ शिक्षा

महाविद्यालय में इस समय इग्नू परीक्षा केंद्र पर दो दिसंबर से टर्म एंड परीक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। इसमें प्रतिदिन सुबह और शाम की पालियों में परीक्षा आयोजित की जा रही है। शनिवार को केंद्र पर परीक्षार्थी के रूप में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट गौरव कुमार भी पहुंचे और बिलकुल आम परीक्षार्थी की तरह उन्होंने परीक्षा दी। परीक्षा के बाद उन्होंने बताया कि दूरस्थ शिक्षा उन लोगों के लिए बहुत उपयोगी है जो सर्विस में हैं या किन्ही अन्य कारणों से नियमित रूप से कॉलेज में रह कर पढ़ाई नहीं कर सकते। इससे हम निरंतर सीखते हुए अपनी कार्य क्षमता और दक्षता को बढ़ा सकते हैं। सरकारी या गैरसरकारी क्षेत्र में सेवारत रहते हुए भी इस माध्यम से उच्च शिक्षा आसानी से प्राप्त की जा सकती है। 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस