मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। अमरोहा के गजरौला में दिल्ली रेलवे लाइन पर स्थित कांकाठेर रेलवे स्टेशन पर तैनात एक स्टेशन मास्टर ने नशे में धुत होकर उत्पात मचाया। वह कंट्रोल रूम को स्पष्ट जानकारी नहीं दे पा रहा था। जानकारी मिलने पर आरपीएफ ने स्टेशन मास्टर का सरकारी अस्पताल में मेडिकल कराया गया है। मामला शनिवार की सुबह पांच बजे का है।

कांकाठेर रेलवे स्टेशन पर राजीव गिरी स्टेशन मास्टर के पद पर तैनात हैं। शुक्रवार रात 12 बजे से सुबह आठ बजे तक स्‍टेशन मास्‍टर की ड्यूटी थी। आरोप है कि शनिवार की सुबह करीब पांच बजे स्टेशन मास्टर राजीव गिरी नशे की हालत में ड्यूटी कर रहे थे। कई बार कंट्रोल रूम ने स्टेशन पर फोन कर ट्रेनों से संबंधित जानकारी मांगी तो वह स्पष्ट रूप से बात भी नहीं कर पा रहे थे। यह भी बताया है कि वह स्टेशन पर शोर शराबा कर रहे थे। कंट्रोल रूम ने मामले की जानकारी स्टेशन अधीक्षक धर्मेंद्र सिंह को दी। 5:30 बजे स्टेशन पर पहुंचे स्टेशन अधीक्षक ने चार्ज संभालते हुए आरपीएफ को प्रकरण की जानकारी दी। कंट्रोल रूम के आदेश पर आरपीएफ ने स्टेशन मास्टर का गजरौला का सरकारी अस्पताल में मेडिकल भी कराया है। स्टेशन अधीक्षक धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि स्टेशन मास्टर राजीव नशे की हालत में प्रतीत हो रहे हैं। कंट्रोल रूम द्वारा जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचकर चार्ज संभाला और फिर उन्हें सरकारी अस्पताल में मेडिकल के लिए भेजा है। हालांकि इस दौरान कोई ट्रेन प्रभावित नहीं हुई है। वह स्पष्ट जानकारी नहीं दे पा रहा था। 

Edited By: Narendra Kumar