अमरोहा, जेएनएन। योगी सरकार के बजट में पड़ोसी जनपद हापुड़ के गढ़मुक्तेश्वर-ब्रजघाट को तरजीह देते हुए पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने को कहा गया है। इसका अमरोहा जनपद के लोगों को भी लाभ मिलेगा। रोजगार के अवसर बढ़ सकेंगे। चूंकि ब्रजघाट स्थित गंगा का पूर्वी क्षेत्र वाला तट अमरोहा जनपद की सीमा में ही आता है। यहां हसनपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत की भूमि भी है।

उत्तराखंड में हरिद्वार जाने के बाद से ब्रजघाट को तीर्थ स्थल के रूप में विकसित करने की उठती आ रही है मांग

प्रदेश सरकार के बजट से भाजपा समेत अन्य लोगों के चेहरे खिल गए। उत्तराखंड अलग राज्य बनने के बाद हरिद्वार उसमें शामिल होने के बाद से गढ़मुक्तेश्वर के ब्रजघाट क्षेत्र को तीर्थ स्थल के रूप में विकसित करने की मांग उठती आ रही है। यहां विकास हुआ भी है लेकिन हर पखवाड़े पूर्णिमा व अमावस्या पर उमडऩे वाली लाखों की भीड़ के हिसाब से विकास नहीं हो पाया है। सरकार बनने के बाद ब्रजघाट पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ही कार्तिक पूर्णिमा पर गढ़मुक्तेश्वर व अमरोहा के तिगरीधाम में लगने वाले गंगा मेले को सरकारी मेला घोषित कर बजट प्रदेश शासन से जारी करने की व्यवस्था कराई।

गढ़मुक्तेश्वर क्षेत्र की जनता के साथ खिल गए हैं अमरोहा जनपद के लोगों के भी चेहरे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2020-21 के अपने बजट में भी गढ़मुक्तेश्वर का ध्यान रखते हुए पर्यटन स्थल के तौर पर विकास कराने की घोषणा की है। इससे वहां के साथ यहां के लोगों के चेहरे खिल गए हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि तीर्थ नगरी ब्रजघाट का विकास होने का लाभ अमरोहा जनपद की जनता को भी मिल सकेगा।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस