मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Seminar at Multispecialty Hospital : वेंक्टेश्वरा समूह के मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल और प्राइवेट चिकित्सकों के संगठन (पीसीएमए) के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित संगोष्‍ठी और सम्मान समारोह में महाराष्ट्र, कोलकाता, बेंगलुरु, चेन्नई और दिल्ली समेत देश के विभिन्न जगहों से आए 600 से अधिक चिकित्सकों को सम्मानित किया गया।

वेंक्टेश्वरा समूह के चेयरमैन डॉ सुधीर गिरि ने कहा क‍ि नियमित दिनचर्या, योग एवं व्यायाम संतुलित खानपान से भी शरीर में बनने वाली असामान्य कोशिकाओं की ग्रोथ को रोका जा सकता है। विख्यात यूरोलोजिस्ट एवं डायलिसिस एक्सपर्ट डॉ उमा किशोर ने कहा क‍ि फर्स्ट फेज (प्राथमिक अवस्था) में यदि समय रहते जांच करा ली जाए तो विभिन्न प्रकार के कैंसर से होने वाली मौतों को 50 फीसद तक रोका जा सकता है। कार्यक्रम का शुभारंभ समूह चेयरमैन डॉ सुधीर गिरि, प्रतिकुलाधिपति डॉ राजीव त्यागी, डॉ उमाकिशोर, पीसीएमए अध्यश डॉ एसके शर्मा, कुलपति प्रो पीके भारती, विम्स निदेशक डॉ एनके कालिया, सीओ डॉ अरशद इकबाल ने क‍िया। समूह के चेयरमैन ने कहा कि सभी निजी चिकित्सक भारतीय चिकित्सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की रीढ़ हैं। विश्व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में कोविड की दूसरी लहर में यद‍ि निजी चिकित्सक आगे नहीं आते तो देश में मरने वालो का आंकडा पांच गुना अधिक होता। संगोष्ठी को डॉ एमए तालिकोटि, डॉ उमाकिशोर, डॉ बीपी यादव, डॉ इकराम इलाही, डॉ अतिया सना, डॉ एसके शर्मा, डॉ पुष्पा वर्मा आदि ने भी संबोधित क‍िया। 

Edited By: Narendra Kumar