मुरादाबाद। स्वाट (स्पेशल वेपंस एंड टैक्टिक्स) टीम के कमांडो अब थानों में जाकर पुलिस कर्मियों को अत्याधुनिक हथियारों के बारे में विस्तार से बताएंगे। साथ ही उन्हें फिट रहने के गुर भी देंगे। आइजी ने बैठक लेकर उन्हें यह हिदायत दी।

आईजी रमित शर्मा ने शनिवार की देर रात अपने ऑफिस में मुरादाबाद स्वाट टीम की बैठक ली। टीम के सदस्यों से उनकी तैयारियों, प्रशिक्षण, रणकौशल, जनशक्ति और संसाधनों की विस्तार से जानकारी ली। प्रतिसार निरीक्षक( आरआइ) इंद्रवीर सिंह से स्वाट टीम के बारे में पूछा कि यह टीम जिले में क्या-क्या काम करती है। कैसे काम कर रही है। टीम के सदस्यों ने बताया कि पूर्व में पुलिस लाइन में थानों से चयनित सिपाहियों को उनसे प्रशिक्षण दिलाया जाता था। इससे पुलिस के कौशल में विकास हो रहा था लेकिन, अब इसे बंद कर दिया गया है। आईजी ने एएसपी आदित्य लांग्हे और आरआई इंद्रवीर सिंह को निर्देशित किया कि जिले के थानों से ऐसे पुलिस कर्मियों को चुनें जो ट्रेनिंग लेना चाहते हैं। उन्हे स्वाट टीम के सदस्यों से ट्रेनिंग दिलाई जाए। साथ ही रंगरूटों को भी स्वाट प्रशिक्षण दिलाया जाए। आईजी ने स्वाट टीम के सदस्यों से उनकी समस्याएं और जरूरतों के बारे में भी पूछा। बैठक में स्वाट टीम के 12 सदस्य शामिल रहे। आइजी ने कहा कि इसी तरह क्राइम की टीम को भी और अधिक सक्रिय किया जाएगा।

स्वाट टीम की बैठक में निर्देश देते आइजी रमित शर्मा ’ पीआर सेल

आइजी ने सतर्क रहने के दिए निर्देश

रविवार को आइजी रमित शर्मा ने मंडल से सभी पुलिस अधिकारियों को सतर्क रहने की निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मुख्य बाजारों में गश्त करते रहें। छोटी से छोटी सूचना को गंभीरता से लेकर प्रभावी कार्रवाई कराएं। किसी भी स्तर पर चूक नहीं होनी चाहिए। आइजी के निर्देश पर रविवार की शाम को फिर से पुलिस सड़कों पर निकल गई। सभी जिलों की पुलिस ने संवेदनशील क्षेत्रों में भ्रमण किया। साथ ही शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए गणमान्य लोगों के भी पुलिस को लगातार संपर्क में रहने को कहा गया। 

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप