मुरादाबाद। जनपद अमरोहा में पिता के निधन के बाद घर की स्थिति को ठीक करने के लिए कक्षा-12 का छात्र पढ़ाई करने के साथ-साथ पुलिस में भर्ती होने की तैयारी भी कर रहा था। इसके लिए रोज सुबह अपने दोस्तों के साथ दौड़ लगाने जाता था लेकिन, शुक्रवार को दौड़ते समय वह अचानक बेहोश होकर गिर पड़ा। साथी उसे अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने हार्ट अटैक से मौत होने की जानकारी दी है। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए बिना ही बेटे का अंतिम संस्कार कर दिया। घटना थाना क्षेत्र के गांव खेड़का की है। यहां पर सूरज ङ्क्षसह का परिवार रहता है। सूरज सिंह का निधन काफी पहले हो चुका है। उनकी पत्नी खेती-बाड़ी करके दो बेटियों और इकलौते बेटे सुमित यादव का पालन कर रहीं थी। सुमित गांव खण्डसाल कलां स्थित राणा ङ्क्षसह मेमोरियल इंटर कालेज में कक्षा 12 का छात्र था। वह गांव के युवकों के साथ रोज सुबह दौड़ लगाने जाता था। वह पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहा था। शुक्रवार की सुबह सुमित करीब पांच बजे दौड़ लगाने घर से निकला था। बताते हैं कि वह अन्य युवकों से आगे दौड़ रहा था। करीब छह बजे मिर्जापुर तिराहे पर वह बेहोश होकर गिर पड़ा। पीछे से आ रहे अन्य युवकों ने उसे बेहोश देखा तो परिजनों को सूचना दी और निजी चिकित्सक के यहां भर्ती कराया। उस समय तक सुमित यादव की मौत हो चुकी थी। परिजन उसे लेकर फिर भी अमरोहा के निजी अस्पताल में पंहुचे। उस समय तक सुमित का शरीर पीला पड़ चुका था। चिकित्सकों ने अमरोहा में भी उसे मृत घोषित कर दिया। इकलौते बेटे की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। उन्होंने बिना किसी पुलिस कार्रवाई के अंतिम संस्कार कर दिया।

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस