सम्भल, जेएनएन। Young man threatened inspector : चालान कटने के बाद एक मुस्लिम युवक इतना बौखला गया कि उसने यातायात सिपाही को धमकी दे डाली।कहा, अभी जितना मर्जी हो चालान काट लेना, सरकार आने दो फिर देख लूंगा। सरकार आई तो तुम सम्भल में नहीं दिखोगे, नहीं आई तो मैं सम्भल छोड़ दूंगा...। इस पूरी घटना का वीडियो वायरल हुआ है। जब भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने इसे देखा तो उन्होंने ट्वीट किया। लिखा, ऐसे 20 फीसद लोगों के खिलाफ ही 80 फीसद के संग मिलकर लड़ रही है भाजपा...। ट्वीट के बाद यह मामला तूल पकड़ा। अब कोतवाली पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है। इस पर युवक ने माफी मांगी और एक वीडियो जारी किया। जिसमें उसने कहा कि उसका किसी राजनीतिक दल से कोई वास्ता नहीं है।

सम्भल में 12 जनवरी को यातायात पुलिस चन्दौसी चौराहे पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी। तभी एक बाइक सवार वहां से निकला तो पुलिस ने उसे रोक लिया। बिना हेलमेट बाइक चलाने पर यातायात दारोगा हरेंद्र सिंह ने बाइक सवार का चालान कर दिया। युवक सम्भल के मियां सराय निवासी मुहम्मद अशरफ था। चालान कटने के बाद युवक ने सिपाही को धमकाना शुरू कर दिया। कहा कि आपको जितना बढ़ाकर चालान काटना है काट लो। इस पर दारोगा ने कहा कि क्या करोगे खा जाओगे मुझे। तो बाइक सवार ने कहा कि यह वक्त बताएगा जब सरकार आएगी।

दरोगा ने कहा कि सरकार आई और फिर मैं यहींं रहा तो क्या होगा, इसके बाद बाइक सवार ने कहा यह तो वक्त बताएगा कि या तो हम सम्भल में नहीं रहेंगे या फिर आप नहीं रहोगे। बाइक सवार ने आगे कहा कि जितना बढ़ाकर काटना हो काट लेना। यह वीडियो शनिवार को सुबह से इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा। भाजपाइयों ने इंटरनेट मीडिया पर इसे वायरल करते हुए लिखा कि अभी तो सरकार भी नहीं बनी है तब यह हाल है। मामले की जानकारी सम्भल कोतवाली पुलिस को हुई तो पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। एसपी चक्रेश मिश्रा ने बताया कि वीडियो वायरल का संज्ञान लेते हुए मोहम्मद अशरफ को गिरफ्तार किया है। इसने चालान कटने के बाद पुलिस के साथ अभ्रदता की थी। इसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

पुलिस ने कार्रवाई की तो मांगी माफी, बोला- मेरा किसी भी दल से कोई वास्ता नहीं : यातायात पुलिस के एचसीपी द्वारा चालान काटने पर धमकाने वाले युवक ने मामले को तूल पकड़ने के बाद माफी मांग ली है। कहा कि मैं किसी भी पार्टी का कार्यकर्ता नहीं हूं। एक वीडियो जारी करके मोहम्मद अशरफ ने कहा कि मेरा पहले भी चालान हो गया था और 12 जनवरी को फिर से चालान हो रहा था। इसी के चलते मैं तैश में आ गया था। उसके बाद भी मैंने जो भी अल्फाज कहे हैं उसके लिए मैं माफी मांग रहा हूं। मैं किसी भी राजनीतिक दल से कोई ताल्लुक नहीं रखता हूं। मैं आल इंडिया जमीयत उलेमा ए हिंद का पदाधिकारी हूं। मैं इस मामले में सभी से क्षमा चाहता हूं।

Edited By: Samanvay Pandey