रोडवेज की व्यवस्था धड़ाम, बसों में बैठने के लिए जूझती रहीं बहनें

जेएनएन, मुरादाबाद : यात्रियों की संख्या बढ़ने के साथ ही रोडवेज की ओर से की गई व्यवस्था धड़ाम हो गई। बसों में चढ़ने के लिए दिन भर मारा-मारी चलती रही तो यात्रियों को बस के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा। बसें कम होने से रामनगर व अलीगढ़ जाने वालों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

प्रदेश सरकार ने रोडवेज की बसों में 11 व 12 अगस्त को निश्शुल्क यात्रा करने की सुविधा उपलब्ध कराई है। इस बार भद्रा के कारण कुछ लोग गुरुवार को तो कुछ शुक्रवार को रक्षाबंधन मना रहे हैं। बहनें भाई को राखी बांधने और भाई राखी बंधवाने के लिए घर से निकले। रोडवेज प्रबंधन ने लोगों को गंतव्य तक पहुंचने के लिए विशेष व्यवस्था की, लेकिन वह पर्याप्त नहीं रहीं। बस कम नहीं हो, इसके लिए लंबी दूरी से आस-पास के क्षेत्र के लिए बसों का संचालन किया जा रहा है, ताकि अधिक से अधिक फेरे लगाए जा सकें।

गुरुवार सुबह से भीड़ बस अड्डे पर पहुंचना शुरू हो गई थी। रोडवेज प्रबंधन जिस ओर के लिए भीड़ होती, उसी ओर से बसों को चलवा रहा था। यात्रियों को बसों के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा। जैसे की बस अड्डे पर कोई पर पहुंचती तो यात्री बस में सवार होने के लिए दौड़ पड़ते। बस में चढ़ने के लिए आपा-धापी मच जाती। इस दौरान खूब धक्का मुक्की और मारमारी रही। कई यात्रियों के बीच झगड़ा भी हो गया। अधिकांश यात्री चन्दौसी, सम्भल, बदायूं, बरेली, हसनपुर, धामपुर, नजीबाबाद अलीगढ़ जा रहे थे। भीड़ अधिक होने से रामनगर, अलीगढ़ व नजीबाबाद के लिए बसें कम पड़ गईं। रोडवेज ने यात्रियों के लिए 120 बसों की व्यवस्था की थी। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक (पीतल नगरी) प्रेम सिंह ने बताया कि रक्षा बंधन पर जाने वालों की बसों में काफी भीड़ रही। शुक्रवार को भी रक्षाबंधन पर जाने वालों के लिए विशेष बसों की व्यवस्था की जाएगी।

Edited By: Jagran