मुरादाबाद, जेएनएन। Shortage of drivers in Moradabad Roadways Department। अब चालकों की कमी से रोडवेज की बसें खड़ी नहीं रहेंगी। रोडवेज मुख्यालय ने मुरादाबाद मंडल में 23 प्रशिक्षित चालक तैनात किए हैं। दूसरे चरण में शीघ्र  ही 77 प्रशिक्षित चालक मिलने की संभावना है। मुरादाबाद मंडल में रोडवेज की पांच सौ अपनी बसें हैं, इसके अलावा 199 अनुबंधित बसें हैं।

अनुबंधित बसों में रोडवेज को चालक नहीं तैनात करने पड़ते हैं। केवल परिचालक तैनात क‍िए जाते हैं। रोडवेज की अपनी बसों के लिए चालक और परिचालक तैनात क‍िए जाते हैं। रोडवेज की पांच सौ बसों के संचालन के लिए साढ़े सात सौ चालक की आवश्यकता होती है। लंबी दूरी की बसों में दो चालक तैनात क‍िए जाते हैं। साप्ताहिक छुट्टी आदि भी देनी पड़ती है। बस की संख्या के डेढ़ गुना चालक की आवश्यकता होती है। रोडवेज के पास साढ़े सात सौ के स्थान पर 650 चालक हैंं। ठंड के कारण बसें कम चल रहीं हैं, इसलिए कम चालक में बसों का संचालन किया जा रहा है। फरवरी से यात्रियों की संख्या बढ़नी शुरू हो जाएगी। इस दौरान सभी बसें भी चलने लगेंगी। इसके बाद चालकों की कमी के कारण बसें खड़ी होने लगेंगी। रोडवेज प्रबंधन ने पहले चरण में 23 प्रशिक्षित संविदा चालकों की तैनाती कर दी है। दूसरे चरण में 77 प्रशिक्षित चालकों को तैनात किया जाना है। चालकों की संख्या बढ़ जाने से बसें अब खड़ी नहीं रहेंंगी। क्षेत्रीय प्रबंधक अतुल जैन ने बताया कि 23 नए चालकों को मंडल के विभिन्न क्षेत्रों के डिपो में तैनात किया गया है, मुरादाबाद में दो, चांदपुर में सात, अमरोहा में दो, नजीबाबाद में पांच, बिजनौर में तीन, रामपुर में चार चालक तैनात क‍िए गए हैं। दूसरे चरण में चालकों के आने पर अन्य स्थानों पर चालकों को तैनात किया जाएगा।

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021