मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। मझोला के कांशीरामनगर में युवती का शादी के इरादे से अपहरण करके जबरन उसका मतांतरण कराने के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस युवती को बरामद करने के लिए हाथ पैर मार रही थी कि इसी बीच उसने पुलिस को वीडियो भेजने के साथ ही इंटरनेट पर वायरल कर दिया। इसमें युवती ने मतांतरण पर तो कुछ नहीं बोला। लेकिन, अपनी मर्जी से प्रेमी से शादी करने की बात कही है।

कांशीरामनगर निवासी महबूब के बेटे सलमान सहित छह लोगों पर दूसरे समुदाय की युवती का शादी करने के इरादे से अपहरण करने के आरोप मुकदमा दर्ज कराया गया है। सलमान और उसके स्वजन पर आरोप है कि वे युवती पर जबरन मतांतरण करने के लिए दबाव बना रहे थे। बुद्धा पार्क के पास से युवती को कार में बैठाकर ले गए हैं। आरोपित के घर शिकायत करने गए तो उन्हें धमकाया गया। कहा कि यहां से भाग जाओ, युवती ने मतांतरण कर लिया है। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। मामला अनुसूचित जाति से जुड़ा है, इसलिए युवती के स्वजन के साथ कई सामाजिक संगठन भी खड़े हो गए हैं। युवती के पीड़ित स्वजन का कहना है कि आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए और उनकी बेटी उन्हें सौंप दी जाए। प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि युवती ने वीडियो और आधार कार्ड भेजा है। युवती की उम्र 20 साल है। उसका कहना है कि वह अपनी मर्जी से सलमान के साथ रह रही है। शादी भी कर ली है। मुझे ढूंढने की कोशिश की तो जान दे दूंगी, मुझे किसी से मतलब नहीं है। घरवालों से भी मेरा कोई लेना-देना नहीं है। अपनी मर्जी से सलमान के साथ आई हूं। किसी ने मेरे साथ जबरदस्ती नहीं की है। मुझे ज्यादा ढूंढने की कोशिश करेंगे तो जान दे दूंगी। किसी को भी ज्यादा ही पता करना है तो मामी से पता कर लें। शुरू से अब तक जो किया है, वह सब जानती हैं। मामा ने पहले मेरी तरफ गौर नहीं किया तो अब मुझको क्यों तलाश रहे हैं। मैंने शादी कर ली है, प्रूफ भी पहुंचा दूंगी।

Edited By: Narendra Kumar