जागरण संवाददाता, मुरादाबाद। Indian Railway News : रेलवे ने यात्रियों को ट्रेनों की लोकेशन बताने के लिए इंजन में ट्रेन इंफार्मेशन सिस्टम लगाया है। जिसके द्वारा यात्री ट्रेनों की लोकेशन ऑनलाइन जान लेते हैं। जब ट्रेन एक स्टेशन के यार्ड से बाहर निकल जाती है, तब यात्री को ट्रेन के उस स्टेशन से निकलने की जानकारी मिलती है।

सटीक जानकारी नहीं मिलने से यात्रियों को दिक्कत

किसी कारण से दो स्टेशनों के बीच ट्रेन खड़ी हो जाती है, या धीमी गति से चलती है तो इसकी जानकारी नहीं मिलती है। यही कारण है कि ट्रेन इंफार्मेशन सिस्टम द्वारा दी जाने वाली सूचना में ट्रेन की लोकेशन में आधे से एक घंटे का फर्क रहता है। इससे कई बार यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

सिस्टम अपडेट करने का प्लान रेलवे ने दो साल पहले बनाया था

रेलवे ने यात्रियों को ट्रेनों की लोकेशन की सही जानकारी देने के लिए आधुनिक संचार सेवा को उच्चीकृत करने का फैसला दो साल पहले लिया था। जिसे रियल टाइम ट्रेन इंफार्मेशन सिस्टम नाम दिया गया। यह सिस्टम जीपीएस से जुड़ा होता है। यह सिस्टम ट्रेन के इंजन में स्थायी रूप से लगाया जाता है।

इंजन में लगाया जा रहा अपडेट सिस्टम

जीपीएस सूचना कंट्रोल आफिस एप्लीकेशन सिस्टम को उपलब्ध कराता है। इसके बाद यह सिस्टम ऑआनलाइन ट्रेन की जानकारी लेने वाले यात्रियों को पहुंचती है। रेलवे के विभिन्न वर्कशाप में 27 सौ इंजन पर यह सिस्टम स्थायी रूप से लगाने का काम शुरू किया गया है। यह इंजन जिस ट्रेन के साथ लगेगा, उसकी सूचना यात्रियों को मिलना शुरू हो जाएगी।

व्यापारी भी माल की सही लोकेशन ले सकेंगे

इस सिस्टम के बाद यात्रियों को ट्रेन के लिए घंटों इंतजार नहीं करना पड़ेगा। जिस मालगाड़ी में उक्त सिस्टम वाला इंजन लगा होगा, उस मालगाड़ी का नंबर डालकर व्यापारी भी अपने माल की लोकेशन ले सकेंगे। वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि यह सिस्टम वर्कशाप में इंजनों पर लगाया जा रहा है। धीरे-धीरे सभी ट्रेनों की वास्तविक चलने की जानकारी मिलना शुरू हो जाएगा।

Edited By: Samanvay Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट