वाणिज्यकर विभाग द्वारा रोके गए पार्सल रेलवे ने किए रवाना

जेएनएन, मुरादाबाद : रेल प्रशासन ने वाणिज्य कर विभाग द्वारा रोके गए पार्सल को गुरुवार से ट्रेन द्वारा गंतव्य के लिए भेजना शुरू कर दिया, जबकि वाणिज्यकर के अधिकारी माल सीज कराने के लिए दिन भर स्टेशन व डीआरएम कार्यालय के चक्कर लगाते रहे।

सोमवार की रात में वाणिज्यकर व एसटीएफ की टीम ने रेलवे स्टेशन पर चेकिंग की थी। रेलवे ने बुक किए गए 308 पार्सल के नग को चिह्नित किया था। इसमें भेजे जा रहे माल पर जीएसटी का भुगतान नहीं करने का संदेह था। टीम ने माल को सीज करने का प्रयास किया, लेकिन रेलवे अधिकारियों ने रेलवे के नियमों का हवाला देते हुए माल को सीज करने से रोक दिया। रेलवे अधिकारियों ने वाणिज्यकर अधिकारियों की मांग पर 48 घंटे तक सभी सामान को रवाना करने से रोक दिया। वाणिज्यकर अधिकारी माल की जांच करने के बजाय उसे सीज करने का प्रयास करते रहे। गुरुवार को भी वाणिज्यकर के अधिकारी स्टेशन व डीआरएम आफिस में अधिकारियों से मुलाकात कर पार्सल के माल को सीज करने करने की कोशिश में लगे रहे, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई। दूसरी ओर 48 घंटे बीत जाने के बाद रोके गए नगों को ट्रेन द्वारा गंतव्य स्थान के लिए भेजा शुरू कर दिया है। अधिकांश पार्सल पश्चिम बंगाल, बिहार व झारखंड के विभिन्न स्टेशनों पर भेजा जाना है। शुक्रवार सुबह तक सभी सामान भेज दिया जाएगा।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि रेलवे के नियम के अनुसार पार्सल के लिए बुक माल को अन्य विभाग सीज नहीं कर सकते। जांच के लिए दी गई समयावधि पूरी हो जाने के बाद सामान भेजना शुरू कर दिया है। वाणिज्यकर विभाग को मांगी गई सूचना उपलब्ध करा दी गई है।

Edited By: Jagran