जागरण संवाददाता, मुरादाबाद: मूंढापांडे ब्लाक की ग्राम पंचायत नियामतपुर इकरोटिया में स्वयं सहायता समूह को राशन डीलर बनाए जाने का विरोध हो गया। ग्रामीणों का कहना था कि वोटिग कराकर राशन की दुकान दी जानी चाहिए। हंगामा बढ़ने और ग्रामीणों के न मानने पर अधिकारी बिना चुनाव कराए ही लौट गए।

ग्राम पंचायत नियामतपुर इकरोटिया के पूर्व राशन डीलर जफर खां की बीमारी के चलते मौत हो गई थी। डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने यहां चुनाव कराकर नया राशन डीलर नियुक्त करने का आदेश दिया है। बुधवार को मूंढापांडे ब्लाक से अधिकारियों कि टीम पुलिस फोर्स के साथ गांव पहुंची। अधिकारियों ने शासनादेश पढ़कर सुनाया। कहा कि गांव में चल रहे स्वयं सहायता समूह को ही राशन डीलर बनाया जाएगा। इस पर प्राथमिक विद्यालय में मौजूद ग्रामीणों ने विरोध करना शुरू कर दिया। ग्रामीणों ने कहा कि समूह की जगह किसी व्यक्ति का चयन किया जाए। वोटिग कराकर डीलर नियुक्ति होनी चाहिए। इस पर अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझाया लेकिन, वह नहीं माने। हंगामा बढ़ता देख अधिकारी बिना चुनाव कराए ही लौट गए। ग्राम प्रधान अशोक कुमार ने बताया कि लोग नहीं चाहते की स्वयं सहायता समूह राशन डीलर बने। जिलाधिकारी से मुलाकात करके बात रखी जाएगी। सभी को राशन डीलर के चुनाव में खड़ा होने का मौका मिले। ग्रामीण जिसे चाहें उसे चुनें। डीएम का जो भी आदेश होगा उसका पालन किया जाएगा।

बिना बयान लिए चार्जशीट लगा दी संस,अगवानपुर : थाना सिविल लाइंस क्षेत्र के मऊ निवासी महिला ने मूंढापांडे क्षेत्र के गांव सैंजना निवासी पति आसिफ, देवर शाहरुख सहित अन्य ससुरालियों पर दहेज एक्ट, छेड़छाड़ सहित अन्य कई धाराओं में आरोप में महिला थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। लेकिन, जांच अधिकारी ने पीड़िता के बिना 164 के बयान दर्ज किए चार्जशीट दाखिल कर दी। महिला का आरोप है कि विवेचक ने आरोपियों के नाम भी निकालकर धाराएं भी कम कर दी। इस मामले को लेकर महिला आज वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार के समक्ष पेश हुई। एसएसपी ने इस मामले में सीओ सिविल लाइंस को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

Edited By: Jagran