मुरादाबाद, जेएनएन। प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक के नए चेयरमैन के रूप में राकेश कुमार अरोड़ा ने गुरुवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस मौके पर आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने बताया कि बैंक का पहला लक्ष्य कोरोना वायरस के बाद किसानों को समृद्ध करना होगा। बैंक की ओर से किसानों के लिए कई योजनाएं तो चलाई ही जा रही हैं लेकिन, हम कोरोना वायरस से बर्बाद हुई किसानों की आर्थिक स्थिति को और मजबूत करने के लिए नए प्रोडक्ट भी लांच करेंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए योजना तैयार की जाएगी। प्रथमा बैंक के नए चेयरमैन ने बताया कि बैंक ने आठ लाख किसानों को केसीसी दिया गया है। इसमें से 80 फीसद किसानों का केसीसी रिन्यूअल भी कर दिया गया है। अब 20 फीसद किसानों पर काम किया जा रहा है। इस मौके पर प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक की पूर्व चेयरमैन अनिल कुमार शर्मा भी मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि 14 महीने के कार्यकाल में बैंक ने किसानों को काफी राहत दी। उन्होंने बताया कि बैंक को इस वित्तीय वर्ष में 300 करोड़ का प्रॉफिट हुआ है और एनपीए लोन की रिकवरी भी काफी तेजी से बढ़ी है।

पांच सदस्यीय कमेटी करेगी शारीरिक दूरी का नियम तोड़ने की जांच

प्रथमा बैंक के नए चेयरमैन राकेश कुमार अरोड़ा ने बताया कि पूर्व चेयरमैन के विदाई समारोह में सभी प्रकार के एहतियात बरते गए थे। हालांकि, कुछ फोटो ऐसे सामने आए हैं जिसमें गाइडलाइन का पालन होते हुए नहीं दिख रहा है, ऐसा कैसे हुआ इसकी जांच के लिए पांच सदस्यीय कमेटी गठित की गई है। इस कमेटी में दो जीएम और तीन प्रबंधक शामिल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस