जागरण संवाददाता, मुरादाबाद। Postal Department Accident Protection Plan : डाक विभाग नई बीमा योजना लाने जा रहा है। इसके तहत दुर्घटना मारे गए शख्स के आश्रितों को 10 लाख रुपये मुआवजा डाक विभाग (Postal Department) देगा। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (India Post Payment Bank) के खाता धारकों को डाक विभाग दुर्घटना सुरक्षा योजना (Accident Protection Plan) का लाभ देने जा रहा है।

दुर्घटना में मौत हो जाने पर आश्रित को दस लाख रुपये मुआवजा देने के साथ बच्चों की पढ़ाई के लिए एक लाख रुपये भी दिए जाएंगे। इसके लिए खाता धारकों को सिर्फ 399 रुपये सालाना बीमा राशि देनी होगी। इस योजना के लिए डाक विभाग का टाटा की बीमा कंपनी से करार हुआ है।

कैसे ले सकते हैं प्लान

योजना के तहत खाता धारकों के खाते में न्यूनतम पांच सौ रुपये होना चाहिए। खाता धारकों को डाकघर में पहुंच कर या डाकिया को दुर्घटना सुरक्षा योजना में शामिल करने के लिए अनुरोध करना होगा। डाकिया हैंडहेल्ड मशीन पर अनुरोध भेज देगा और खाता धारक के खाता से 399 रुपये कट जाएंगे।

खाता धारक की किसी प्रकार की दुर्घटना में मौत हो जाती है तो उसके आश्रित को दस लाख रुपये की मुआवजा राशि मिलेगी। इसके साथ ही बच्चों की पढ़ाई के लिए एक लाख रुपये दिए जाएंगे। अंतिम संस्कार करने के लिए पांच हजार रुपये भी दिए जाएंगे।

प्लान में ये सुविधाएं भी मिलेंगी

दुर्घटना में घायल होने पर अस्पताल में भर्ती कर इलाज कराने के लिए 60 हजार रुपये, कम गंभीर होने पर तीस हजार रुपये दिए जाएंगे। अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान तीमारदारों को दस हजार रुपये दिए जाएंगे। घायल खाता धारक के परिवार वालों को अस्पताल पहुंचने के लिए 25 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। खाता धारक अगर दुर्घटना में दिव्यांग हो जाते है तो, ऐसी स्थिति में भी दस लाख रुपये की मुआवजा राशि दी जाएगी।

299 का प्लान भी है फायदेमंद

इसके अलावा 299 रुपये का दुर्घटना सुरक्षा योजना है। इसमें 399 रुपये की तरह सभी सुविधा होगी, केवल मृतक आश्रितों के बच्चों की पढ़ाई के लिए सहायता राशि नहीं दिया जाएगा। प्रवर डाक अधीक्षक वीर सिंह ने बताया कि दुर्घटना सुरक्षा योजना का लाभ केवल इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के खाता धारकों मिलेगा। खाता धारक नजदीक के डाकघर या डाकिया से संपर्क कर योजना में शामिल हो सकते हैं।

Edited By: Samanvay Pandey