अमरोहा, जेएनएन। शासन ने शवयात्रा को लेकर एडवाइजरी जारी की है। उसके द्वारा यात्रा में शामिल होने वाले लोगों की संख्या को सीमित कर दिया गया है। अब 20 से ज्यादा लोग शवयात्रा में शामिल नहीं हो सकेंगे। तिगरीधाम या ब्रजघाट तक पुलिस उनकी राह में रोड़ा नहीं बनेगी। किसी भी स्थान पर उनके द्वारा शव का अंतिम संस्कार किया जा सकेगा। इस संबंध में पुलिस को भी निर्देशित किया गया है लेकिन, लोगों से अपील की गई है कि वह शवयात्रा में भी एक-दूसरे से एक मीटर की दूरी अवश्य बनाए रखें।

वाहन को नहीं रोकेगी पुलिस

कोरोना वायरस को लेकर देश ही नहीं बल्कि प्रदेश में भी लॉकडाउन है। ऐसे में घर के किसी बुजुर्ग की मौत और उसके अंतिम संस्कार को लेकर परिवार के लोग बेहद ङ्क्षचतित हैं। शवयात्रा पुलिस निकलने देगी या नहीं, बस यही बात उनको बेचैन किए है लेकिन, सरकार ने शवयात्रा को लेकर भी जरूरी दिशा निर्देश जारी किए हैं। उसके द्वारा शवयात्रा में शामिल होने वाले लोगों की संख्या को बेहद कम कर दिया गया है। किसी भी शवयात्रा में अब 20 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। जिस वाहन में शव रखकर जा रहा है, उसको किसी भी थाने की पुलिस द्वारा नहीं रोका जाएगा।

आपस में रखना होगा फासला

अपर जिलाधिकारी गुलाब चंद्र ने बताया कि शासन के स्पष्ट निर्देश हैं कि शव यात्रा में 20 लोग ही शिरकत कर सकते हैं। इससे ज्यादा पर उसके द्वारा प्रतिबंध लगाया गया है। शव का अंतिम संस्कार अगर कोई गंगाधाम तिगरी या ब्रजघाट में करना चाहता है तो उसमें किसी तरह की पाबंदी नहीं है। एहतियात के तौर पर लोग आपस में एक मीटर का फासला अवश्य बनाए रखें। कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए यह बेहद जरूरी है। शवयात्रा के लिए किसी तरह की परमीशन पुलिस या प्रशासन से लेने की आवश्यकता नहीं है। सावधानी लोग बरतें। खुद बचें और दूसरों को भी बचाएं।

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस