मुरादाबाद, जेएनएन। ऑक्सीजन मरीजों को लगातार पहुंचाने के लिए प्रशासन सख्त कदम उठा रहा है। ऑक्सीजन की आपूर्ति केवल अस्पतालों और मरीजों के लिए सुनिश्चित करने के लिए औद्योगिक क्षेत्र में पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दी गई है। इसके बावजूद मुरादाबाद में प्रतिदिन की मांग के अनुरूप जैसे-तैसे ऑक्सीजन का इंतजाम हो रहा है, पर रिजर्व में बिल्कुल नहीं होने के कारण परेशानी बढ़ रही है। ऐसे में औद्योगिक क्षेत्रों में ऑक्सीजन का प्रयोग पूरी तरह से बंद कराने के उद्देश्य से निरीक्षण भी शुरू कर दिया गया है।

उपायुक्त जिला उद्योग केंद्र अनुज कुमार ने बताया कि ऑक्सीजन का उपयोग औद्योगिक इकाइयों में पूर्णतया प्रतिबंधित है। ऐसे में कोई भी चोरी छिपे इसका उपयोग न करें, इसके लिए फैक्ट्रियों और कारखानों में निरीक्षण किया जा रहा है। मंगलवार से इसकी शुरुआत कर दी गई है। हालांकि अभी इस प्रकार का मामला सामने नहीं आया है। वहीं ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए नोडल अधिकारी बनाए गए परियोजना निदेशक यशवंत सिंह ने बताया कि ऑक्सीजन की आपूर्ति मांग के अनुरूप जैसे-तैसे हो जा रही है, लेकिन रिजर्व में ऑक्सीजन नहीं होने से चिंता बनी हुई है। पर धीरे-धीरे आपूर्ति बढ़ी है। एक दो दिन में स्थिति में और सुधार आएगा।

 

Edited By: Narendra Kumar