रामपुर, जेएनएन : आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों को निश्शुल्क इलाज दिया जा रहा है। इस योजना के पात्रों के लिए अब स्वास्थ्य विभाग सभी सरकारी अस्पतालों में अलग वार्ड बनाने जा रहा है। इसे आयुष्मान वार्ड नाम दिया गया है। यहां आने वाले पात्र परिवारों को उचित परामर्श और उपचार दिया जाएगा। योजना के तहत मिलने वाली रकम को अस्पताल प्रबंधन मरीजों की सुविधाएं बढ़ाने में ही खर्च करेगा। जिले में आयुष्मान योजना के तहत अभी तक सरकारी अस्पतालों में सिर्फ जिला पुरुष और जिला महिला संयुक्त चिकित्सालय में ही उपचार की सुविधा थी। इसके अलावा आठ प्राइवेट अस्पताल भी आयुष्मान योजना में शामिल हैं। अब नए आदेश के बाद जिले के पांच सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भी आयुष्मान योजना के लाभार्थियों को उपचार मिलेगा। ये सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र टांडा, स्वार, शाहबाद, मिलक और बिलासपुर में हैं। जिले में आयुष्मान योजना की मुख्य कार्यपालक अधिकारी संगीता ङ्क्षसह ने बताया कि लखनऊ में दो दिसंबर को हुई बैठक में इस पर निर्णय लिया गया। तय किया गया है कि सरकारी अस्पताल में भर्ती होने वाले आयुष्मान लाभार्थियों का तुरंत पंजीकरण कराया जाएगा। इस बाबत उनके पर्चे पर मुहर लगाई जाएगी। सरकारी अस्पताल में अलग आयुष्मान वार्ड बनाया जाएगा। वैसे तो सरकारी अस्पताल में सभी का इलाज निश्शुल्क होता है, लेकिन आयुष्यमान वार्ड बनाकर लाभार्थियों को अलग से सुविधाएं दी जाएंगी। अतिरिक्त सुविधाएं मिलने से लाभार्थी सरकारी अस्पताल की ओर आकर्षित होगा। सर्जरी के समय ओटी (आपरेशन थियेटर) लिस्ट बनाते समय लाभार्थी को प्राथमिकता दी जाएगी। योजना में रोगियों के इलाज के बाद मिलने वाली क्लेम धनराशि का इस्तेमाल रोगी कल्याण के लिए सुविधाएं बेहतर बनाने में ही किया जाएगा। भर्ती होने वाले रोगियों की रिपोर्ट प्रतिदिन शासन को भेजनी होगी।

2273 लोगों को दिया जा चुका है निश्शुल्क उपचार

जिले में पात्र परिवारों की संख्या 552100 है। इसमें 78159 लागों के कार्ड बनाए जा चुके हैं। कुल 2273 लोगों का मुफ्त इलाज किया जा चुका है। जिले में 24879 लाभार्थी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में पंजीकृत हैं जबकि 85541 प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में शामिल हैं।

क्या कहते हैं अधिकारी

आयुष्मान वार्ड बनाने का शासनादेश मिल गया है। यह बेहद उपयोगी पहल है। इससे अधिकतम लाभार्थियों को उपचार दिया जा सकेगा। इससे रोगियों को लाभ मिलेगा और सरकारी अस्पतालों की गरिमा भी बढेगी। जल्द ही सभी सीएचसी पर आयुष्मान वार्ड बनाए जाएंगे। इस संबंध में सीएचसी प्रभारियों को अवगत करा दिया है।

डॉ. सुबोध कुमार शर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी। 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस