मुरादाबाद,जासं : रेलवे अधिकारियों एवं कर्मचारियों की वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट अब ऑनलाइन ही भरी जाएगी। तबादला होने पर भी अधिकारी के पास चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे, अब अवकाश का आवेदन भी आनलाइन हो सकेगा।

देश भर में रेलकíमयों की वाíषक गोपनीय रिपोर्ट आफिस क्लर्क द्वारा तैयार करने के बाद संबंधित अधिकारी के पास भेजी जाती है। कíमयों की पदोन्नति के समय गोपनीय वाíषक रिपोर्ट की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। रिपोर्ट अधूरी होने पर पदोन्नति रुक भी जाती है। कई बार तबादला हो जाने के कारण अधिकारी वाíषक गोपनीय रिपोर्ट नहीं भर पाते हैं। उनके पास फाइल भेजी जाती है। इसमें काफी समय लग जाता है। इसका खामियाजा संबधित रेल कर्मचारी को भुगतना पड़ता है। रेलवे बोर्ड के डिप्टी डायरेक्टर (एचआरएमएस) जे कुमार ने 21 अक्टूबर को पत्र जारी कर कहा कि सभी अधिकारी एवं कíमयों की वाíषक गोपनीय रिपोर्ट ऑनलाइन रहेगी। इसके लिए ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सíवस (एचआरएमएस) सिस्टम में सभी का डाटा फीड कर दिया है। अब तबादला हो जाने के बाद भी फाइल अधिकारी को भेजने की जरूरत नहीं पड़ेगी। देश के किसी कोने से गोपनीय रिपोर्ट पर अधिकारी ऑनलाइन रिमार्क कर सकेंगे। इस व्यवस्था के लागू होने के बाद मंडल के 16 हजार कíमयों को सीधा लाभ मिलेगा, जिन कíमयों का वाíषक रिपोर्ट अधूरी है। वह भी जल्द पूरी हो जाएगी और रुकी हुई पदोन्नति आदि का लाभ कíमयों को मिल जाएगा। प्रवर मंडल काíमक अधिकारी विपुल गोयल ने बताया कि एचआरएमएस सिस्टम में सभी अधिकारियों एवं कíमयों का डाटा फीड कर दिया गया है। कर्मचारी छुट्टी आदि का आवेदन इसी पर कर सकते हैं और इसी सिस्टम पर अधिकारी छुट्टी स्वीकृत करने, वाíषक गोपनीय रिपोर्ट देने आदि का कम करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस