मुरादाबाद(रितेश द्विवेदी)। सिक्के जमा करने और फटे-पुराने नोट बदलने के लिए अक्सर बैंक की शाखाओं के चक्कर लगाने पड़ते हैं। ज्यादातर बैंक शाखाओं में यह कहकर ग्राहकों को वापस कर दिया जाता है कि चेस्ट शाखाओं में ही सिक्के जमा करने और नोट बदलने का काम किया जाता है। 

भारतीय रिजर्व बैंक ने अब इस समस्या का निदान कर दिया है। 19 जुलाई को नए निर्देश जारी करते हुए आरबीआइ ने कहा है कि अब देश की सभी बैंक शाखाओं में फटे और पुराने नोट बदले जाएंगे। इसके साथ ही सिक्कों को गिनती न करके तौल कर जमा करने की प्रक्रिया भी अपनाने के लिए कहा है। 

आरबीआइ के नए निर्देशों में इस बात का स्पष्ट रूप से उल्लेख किया गया है कि बैंक में व्यापारी या आम आदमी अपने सिक्के जमा करने जाता है तो सौ-सौ सिक्कों की थैली बनाकर जमा करें। बैंक प्रबंधन इन थैलियों को तौलकर भी जमा कर सकते हैं। ऐसे में उपभोक्ता के साथ ही बैंक का भी समय बचेगा। गाइड लाइन का अनुपालन न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई तय की जाएगी।

जरूरी नहीं होगा बैंक शाखा का ग्राहक होना

आरबीआइ ने बैंकों को जारी किए निर्देश में कहा है कि प्रत्येक बैंक शाखा में नोट बदलने, सिक्के जमा करे। इसके लिए जरूरी नहीं है कि ग्राहक उसी ब्रांच या बैंक का ही हो। सभी भारतीय नागरिकों को देश की किसी भी बैंक शाखा में सिक्के जमा करने और नोट बदलने की सुविधा मिलेगी।

परेशानी होने पर बैंक लोकपाल से करें शिकायत

अगर बैंक के अफसर आरबीआइ के निर्देश का अनुपालन नहीं करते। ऐसी स्थिति में पहले तो उपभोक्ता उस बैंक के टोल फ्री नंबर पर फोन कर शिकायत दर्ज करा सकता है। यह टोल फ्री नंबर प्रत्येक बैंक की शाखा की दीवारों पर चस्पा होता है। अगर इसके बाद भी समस्या का निदान नहीं होता तो बैंकिंग लोकपाल से शिकायत दर्ज कराने के लिए इस नंबर (0512-2306278,2303004) का प्रयोग कर सकते हैं।

 अभी तक केवल चेस्ट शाखा में पुराने नोट और सिक्के बदलने की कार्रवाई होती थी लेकिन, अब सभी बैंक की शाखाओं में यह सुविधा उपभोक्ताओं को मिलना शुरू हो गई है।

दीपक कुमार चंदेल, एजीएम, एसबीआइ बैंक, मुरादाबाद मंडल

  

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप