मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अमरोहा। दहेज की मांग पूरी न होने पर तीन तलाक देकर महिला को मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। महिला की तहरीर पर पुलिस ने पति के खिलाफ तीन तलाक, देवर के खिलाफ दुष्कर्म और अन्य ससुरालियों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का मुकदमा दर्ज कर लिया है। डिडौली कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती की शादी 18 जून, 2018 को गांव फत्तेहपुर निवासी युवक के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही पति व ससुराली उस पर मायके से दहेज में कार और 50 हजार रुपये लाने का दबाव बनाते थे। विरोध करने पर मारपीट की जाती थी। कई बार महिला के घर वालों से कहा तो उन्होंने रिश्तेदारों के जरिये मामले को निपटाने की कोशिश की लेकिन, बात नहीं बनी। आरोप है कि तीन सितंबर को देवर ने उसके साथ दुष्कर्म किया। जब इसकी जानकारी पति को दी तो उसने आठ सितंबर को तत्काल तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया। पीडि़ता मायके पहुंची और परिजनों को घटनाक्रम बताया। गुरुवार शाम को पीडि़ता ने पुलिस को तहरीर दी। प्रभारी निरीक्षक शरद मलिक ने बताया कि पीडि़ता की तहरीर पर पति के खिलाफ तीन तलाक, देवर के खिलाफ दुष्कर्म और अन्य आठ परिजनों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है। 

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप