मुरादाबाद, जेएनएन। निर्यातक के साथी ने व्यापार के नाम पर नौ लाख रुपये हड़प लिए। आरोपित ने चेक में फर्जी हस्ताक्षर करके सारी रकम अपने दोस्त के खाते में ट्रांसफर कर दी। पैसा ट्रांसफर होने का मैसेज आने के बाद निर्यातक ने जब अपने पार्टनर से जानकारी मांगी, तो उल्टे जान से मारने की धमकी भी दे डाली। परेशान कारोबारी ने एएसपी सिविल लाइंस के कार्यालय में जाकर शिकायत की है। जिसके बाद एएसपी ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

न‍िर्यातक इशरत अली आजमनगर चौपड़ा के रहने वाले हैं। उन्होंने कुछ समय पहले एआर हैंडीक्राफ्ट नाम से फर्म बनाई थी। इस फर्म में दो और पार्टनर थे। फर्म का खाता आइडीबीआइ दिल्ली रोड पर बैंक शाखा में खुला था। फर्म में शुरुआत में लाभ हुआ,लेकिन लॉकडाउन होने के कारण व्यापार सही नहीं चल रहा था। बीते 17 फरवरी को इशरत अली को पता चला कि उनकी फर्म के दूसरे पार्टनर बिना जानकारी के दो बार में नौ लाख रुपए अपने दोस्त के खाते में डाल दिए हैं। बैंक जाकर पता चला तो पार्टनर ने चेक में उनके नाम से फर्जी हस्ताक्षर बनाकर इस रकम को निकाला है। बाद में दोस्त ने जान से मारने की धमकी देनी शुरू कर दी। एएसपी अनिल कुमार यादव ने बताया कि पीड़ित कारोबारी की शिकायत की जांच करके कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप