जागरण संवाददाता, मुरादाबाद : सिविल लाइंस थाने की पॉश कॉलोनी को एक बार फिर बदमाशों ने निशाना बनाया। घने कोहरे का फायदा उठाते हुए बदमाशों ने नगीना के सपा विधायक के भाई के घर के ताले गैस कटर से काट दिये। घर के अंदर रखे 40 हजार रुपये की नकदी, 12 तोला सोना और पिस्टल के बीस कारतूस चोरी कर लिये। सात जनवरी को मूल निवास से लौटे पीड़ित ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस ने चोरों की तलाश शुरू कर दी है।

नगीना के अंबेडकर नगर निवासी पदम कुमार पारस जिला पंचायत अधिकारी कार्यालय में वरिष्ठ लेखा परीक्षक हैं। वह आशियाना फेस-टू में परिवार के साथ रहते हैं। उनके भाई मनोज पारस नगीना के सपा विधायक हैं। पदम की मां फूलवती देवी की तबीयत खराब थी। एक जनवरी को वह पत्‍‌नी बीना, बेटे दक्ष और बेटी जमड़ीका के साथ नगीना गए थे। सात जनवरी को जब वह वापस आए तो मुख्य द्वार समेत तालों के कुंडे गैस कटर से कटे पड़े थे। अंदर कमरों में सामान चौतरफा फैला हुआ था। अलमारियां खुली पड़ी थीं। मामला समझते उन्हें देर न लगी। मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण कर घर के आसपास लगे सीसीटीवी से चोर की तलाश शुरू की। पीड़ित ने बताया कि चार लाख के जेवर, 40 हजार रुपये की नगदी और पिस्टल के कारतूस घर से गायब हैं। पदम की तहरीर पर अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

------------------------

पहले भी पॉश कॉलोनियों में हुई हैं घटनाएं

-पहले भी पॉश कॉलोनियों में ताला बंद घर चोरों के निशाने पर रहे हैं। पदम के घर घटना को अंजाम देने वाले चोरों ने कोहरे का फायदा उठाया। वह गैस कटर लेकर आए जिससे आवाज न हो और घटना को अंजाम दिया। टीडीआई सिटी, राम गंगा विहार, मानसरोवर, दीन दयाल नगर और राम गंगा विहार में पहले भी बड़ी वारदातें हो चुकी हैं। घटना के बाद पुलिस की चहलकदमी बढ़ा दी जाती है, समय बीतने के साथ ही पुलिस भी सुस्त पड़ जाती है। हर बड़ी घटना के बाद पॉश कॉलोनियों की सुरक्षा का खाका भी तैयार किया जाता है। स्थानीय लोगों की मानें तो पुलिस की गश्त भी रात में नहीं होती है। जिसका फायदा अराजक तत्व लगातार उठाते हैं। कभी छेड़छाड़, कभी छिनैती तो कभी लूट या चोरी की घटनाएं होती रहती हैं। पॉश कॉलोनियों में होने वाली चोरी की वारदातों का पर्दाफाश भी नहीं हो पाता। बताते चलें कि कांठ रोड स्थित इलेक्ट्रानिक शोरूम के ताले तोड़कर चोरों ने लाखों के मोबाइल पार कर दिये थे। इस वारदात को पूर्वी उत्तर प्रदेश के 'चादर गिरोह' ने अंजाम दिया था। इसके बाद भी वारदात का पर्दाफाश नहीं हो सका। कपड़े के एक शोरूम में दो बार लूट की वारदात हुई, सीसीटीवी फुटेज में घटना भी देखी गई। इसके बाद भी वारदात का पर्दाफाश नहीं हो सका।

------------------------

पीड़ित की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस चोरों की तलाश शुरू कर रही है। जल्द ही घटना का पर्दाफाश होगा।

-अजीत पाल सिंह, प्रभारी निरीक्षक सिविल लाइंस।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021