मुरादाबाद, जेएनएन। Moradabad Unlock 01 News : कोरोना महामारी पर अंकुश लगाने को हुई बंदी के बाद मंगलवार को जनपद में छूट मिली। जिसके बाद बाजार खुले तो बाजारों में पहले की तरह रौनक दिखाई दी।अनलाॅक के पहले दिन शहर की सड़कों पर लोग बेखौफ होकर निकलते दिखाई दिए। सुबह दुकान खोलने के बाद दुकानदारों ने ग्राहकों के आने से पहले कोविड-19 के चलते सैनिटाइजर और ग्राहकों के बीच दो गज की दूरी बनाए रखने के लिए इंतजाम किए।

पूरे प्रदेश के साथ-साथ मुरादाबाद में भी अप्रैल माह में अचानक बढ़े कोरोना संक्रमण को देखते हुए लाॅकडाउन कर दिया गया था। दो दिन पूर्व शासन की ओर से जारी हुए आदेश के बाद जनपद को 31 दिन बाद अनलाॅक कर दिया गया। अनलाॅक होते ही शहर के बाजारों में पुरानी रौनक दिखाई दी, शहर की सभी दुकानों पर शारीरिक दूरी का पालन किया गया। दुकानदारों का कहना था कि हम लोग ग्राहक से कोविड-19 के नियमों का पूरी तरह से पालन करा रहे है।एक महीने बाद दुकानें खुली तो शहर में पहले की तरह जिंदगी पटरी पर दौड़ती नजर आई।

थोड़े दिन बरतें सतर्कता नहीं तो होगी परेशानी

कोरोना संक्रमण को लेकर अभी थोड़े दिन सावधानी बरतने की जरूरत है। सावधानी नहीं बरती तो फिर से परेशानी हो सकती है। इसलिए किसी भी तरह की लापरवाही न बरतें। शारीरिक दूरी बनाकर ही अपना कारोबार करें। निजी संस्थानों में भी शारीरिक दूरी बनाकर काम कराएं। बाजारों में भीड़ नहीं होनी चाहिए।जिलाधिकारी राजेश कुमार सिंह ने धर्मगुरुओं से भी लोगों से अपील करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन लगवाने के लिए क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति लोगों को जागरूक करें। कोरोना अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। इसलिए सावधानी बरतने से ही कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है। 

Edited By: Ravi Mishra