मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। रेलवे के राजभाषा पखवाड़ा का पुरस्कार वितरण समारोह शुक्रवार को डीआरएम आफिस सभागार में आयोजित किया गया। जिसमें राजभाषा शील्ड कार्मिक विभाग को मिला, जबकि स्टेशन शील्ड नजीबाबाद व हरदोई को संयुक्त रूप से दी गई। कार्मिक विभाग द्वारा सबसे अधिक कार्य हिंदी में किए जाने पर उन्‍हें यह शील्‍ड प्रदान की गई।

डीआरएम कार्यालय में हुआ पुरस्‍कार वितरण

डीआरएम ने कार्यालय सभागार में आयोजित कार्यक्रम में बताया कि रेलवे ने 14 सिंतबर से 29 सिंतबर तक राजभाषा पखवाड़ा मनाया। जिसमें हिंदी को बढ़ावा देने के लिए कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया था। जिसका पुरस्कार वितरण शुक्रवार को किया गया। समारोह का उद्घाटन करते हुए मंडल रेल प्रबंधक अजय नंदन ने हिंदी को बढ़ावा देने पर जोर दिया और कहा कि यात्री व जनता को कोई सूचना या पत्र हिंदी में दे।

अंग्रेजी में स्‍वीकृत नहीं होगा छुट्टी का आवेदन 

अंग्रेजी के बजाय हिंदी में अधिक काम करें। कंप्यूटर पर भी हिंदी में काम करना आसान हो गया है। इसके लिए रेलवे ने हिंदी कोष बनाया है। उन्होंने कहा कि अधिकारी या कर्मचारी छुट्टी व अन्य व्यक्तिगत कार्य के लिए अंग्रेजी में आवेदन करते हैं तो छुट्टी स्वीकृत नहीं की जाएगी। अंग्रेजी में आवेदन करने वाले कर्मचारी या अधिकारी को दोबारा हिंदी में आवेदन करना होगा।

स्‍टेशन पर सबसे अधिक हिंदी में काम नजीबाबाद व हरदोई में

इस अवसर पर हिंदी में सबसे अधिक काम करने पर कार्मिक विभाग को शील्ड दिया गया। स्टेशन पर हिंदी में अधिक काम करने के कारण स्टेशन शील्ड नजीबाबाद व हरदोई को संयुक्त रूप से दी गई। इसके अलावा हिंदी में बेहतर काम करने वाले 37 कर्मचारियों को पुरस्कार दिया गया।

निबंध प्रतियोगिता के विजेता भी हुए पुरस्‍कृत

निबंध व वाक प्रतियोगिता में फीरू सिंह प्रथम, हिंदी टिप्पणी, पारूप लेखन प्रतियोगिता में अखिलेश कुमार रस्तोगी प्रथम, समाचार वाचन प्रतियोगिता में पुष्कर शर्मा प्रथम रहे। सभी को पुरस्‍कृत किया गया।  इस अवसर पर अपर मुख्य राजभाषा अधिकारी एवं अपर मण्डल रेल प्रबंधक (परिचालन ) राकेश सिंह, राजभाषा अधिकारी पुनीत सिंह, समेत सभी अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Edited By: Vivek Bajpai

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट