मुरादाबाद, जेएनएन। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। शुक्रवार को आरआरटी के चार डॉक्टर, एक निजी डॉक्टर, एक जज, प्रशासनिक अधिकारी समेत 435 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। हालात ये हैं कि 2000 लोगों की एंटीजन जांच में 85 लोगों के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। अब जिले में टोटल 2094 पॉजिटिव हो चुके हैं।

दीवान का बाजार जिगर रोड, कांशीराम नगर ए-ब्लाॅक, लाकड़ी फाजलपुर, डिप्टी गंज, खुशहालपुर, आजाद नगर कालोनी, टीडीआइ सिटी, टीएमयू, जिला उद्योग केंद्र, नगर निगम, मझोली, ज्ञानी वाली बस्ती, बुद्धि विहार के छह, प्रेम नगर लाइनपार, खुशहालपुर, स्टेशन रोड, दीनदयाल नगर साईं मंदिर के पास, श्रीराम विहार कालोनी, स्टेट बैंक रोड, वेवग्रीन कालोनी, डिप्टी गंज, बुद्धि विहार, पतई कलां, स्टेशन रोड बाजार, सीएचसी मूंढापांडे, मंडी चौक, हनुमान नगर, विवेक विहार, रामसरोवर कालोनी, शंकर नगर, प्रकाश नगर, बुद्धि विहार, जवाहर नगर, बुधबाजार, रेलवे स्टेशन रोड के 14 लोग, आकाश होम्स नियम एमआइटी, आशियाना कालोनी, असालतपुरा, मानसरोवर कालोनी, गांधी नगर, खलीलपुर, कांठ, अगवानपुर, भोजपुर, लालबाग, छड़ियों का मैदान, मुहल्ला डेहरिया, नवीन नगर, सिकंदरपुर, सूर्य नगर, लालबाग, फैजगंज, कानून गोयान, आकाश रिजेंसी आदि में 435 संक्रमितों की पुष्टि हुई है। वहीं 20 सत्रों में 2195 लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगाया जा सका।

तारीख,                      आरटीपीसीआर,                  एंटीजन,                  पॉजिटिव,

16 अप्रैल,                  1560,                               2000,                      435,

15 अप्रैल,                 1530,                               1779,                        356,

14 अप्रैल,                  1468,                              1270,                        378,

13 अप्रैल,                   1646,                               1566,                       175,

12 अप्रैल,                    1557,                                1600,                      151,

11 अप्रैल,                     1287,                                 1510,                     115,

10 अप्रैल,                     1795,                                1683,                      147,

9 अप्रैल,                        1878,                                1765,                     113,

8 अप्रैल,                       1700,                                  1648,                     130,

7 अप्रैल,                         1856,                                 1593,                      27,

6 अप्रैल,                          1720,                                 1640,                      49,

5 अप्रैल,                           1876,                                 1527,                      81,

4 अप्रैल,                           1685,                                  1505,                      67,

3 अप्रैल,                           1708,                                  1510,                      16,

2 अप्रैल,                          1806,                                   1595,                      15,

1 अप्रैल,                           1756,                                   1485,                     15

कोरोना संक्रमण से तीन की मौत

शुक्रवार को कोरोना संक्रमण से दो की मौत हो गई। तहसील स्कूल की 40 वर्षीय महिला, मुगलपुरा की 60 वर्षीय महिला, एमएच कालेज की प्राचार्य की मौत हो गई।

कोरोना संक्रमण की वजह से हालात बिगड़ रहे हैं। शारीरिक दूरी के नियम का पालन बहुत जरूरी है। बिना मास्क के घर से बाहर नहीं निकलें।

डॉ. दिनेश कुमार प्रेमी, जिला सर्विलांस अधिकारी

मई तक सरकारी ओपीडी बंद

कोरोना महामारी बढ़ने की वजह से अब ओपीडी सेवाएं पूरी तरह बंद कर दी गईं हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से रविवार को लगने वाला जन आरोग्य मेला, जिला पुरुष अस्पताल, जिला महिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, अरबन हेल्थ सेंटर बंद कर दिए गए हैं। अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेंगी।

निजी डॉक्टरों की ओपीडी चालू रहेगी

महामारी में मरीजों के इलाज के लिए सरकारी ओपीडी बंद हो गई है लेकिन, निजी डॉक्टरों की ओपीडी चालू रहेगी। आइएमए अध्यक्ष डॉ. भगतराम राणा ने बताया कि निजी डॉक्टर कोविड नियमों का पालन कराएंगे। हमारी भी ओपीडी बंद हो गई तो दूसरी बीमारियों के मरीजों को इलाज में दिक्कत होगी। सभी क्लीनिकों में शारीरिक दूरी का कड़ाई से पालन होगा। एक बार में एक ही मरीज को एंट्री मिलेगी। मरीज को मास्क लगाना अनिवार्य है। मरीज व उसके तीमारदारों के हाथों को सैनिटाइज कराया जाएगा। अभी ओपीडी बंद करने या कराने का सरकारीआदेश नहीं मिला है।

ब्राइट स्टार को अधिगृहित करने का भेजा प्रस्ताव

जिले में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन ने निजी अस्पतालों को अधिगृहित करना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को सीडीओ आनंद वर्धन, सीएमओ डॉ. एमसी गर्ग, जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. दिनेश कुमार प्रेमी ने अस्पतालों की व्यवस्था देखीं। इसके बाद दिल्ली रोड स्थित ब्राइट स्टार अस्पताल का प्रस्ताव बनाकर भेज दिया गया। हालात बिगड़े तो दूसरे निजी अस्पताल भी अधिगृहित किए जा सकते हैं।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप