मुरादाबाद । पीतलनगरी डिपो में 24 हजार लीटर डीजल घोटाले के आरोपित तत्कालीन वरिष्ठ केंद्र प्रभारी को पुलिस ने करीब एक साल बाद गिरफ्तार कर लिया है। अभी दो आरोपित पुलिस पकड़ से दूर हैं। इनके खिलाफ विवेचना चल रही है। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक पीतलनगरी डिपो महेश कुमार ने पांच जुलाई 2018 को तत्कालीन वरिष्ठ केंद्र प्रभारी शैलेंद्र बंसल, उनके साथी रामकुमार गुप्ता और परिचालक राजकुमार शर्मा के खिलाफ 24 हजार लीटर डीजल का गबन करने का आरोप लगाते हुए थाना कटघर में मुकदमा दर्ज कराया था। मामला नजीबाबाद डिपो से आए तेल के दो टैंकर गायब होने का था। उसके बारे में यह तीनों जिम्मेदार जवाब नहीं दे पाए थे। शैलेंद्र और रामकुमार गुप्ता तो अब सेवानिवृत्त हो चुके हैं। परिचालक राजकुमार शर्मा लंबे समय से निलंबित हैं। विवेचक उप निरीक्षक प्रेमचंद्र शर्मा ने बताया कि शैलेंद्र बंसल को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले के दोनों अन्य अभियुक्तों की तलाश की जा रही है।

एआरएम भी हैं निलंबित

डीजल घोटाला पकड़ में आने पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा लिखाने वाले रोडवेज के एआरएम महेश कुमार भी निलंबित हैं, क्योंकि विभाग ने उनसे भी पूछा था कि आपने इस मामले में क्या किया? आपकी भी तो जिम्मेदारी बनती थी। जवाब संतोषजनक न देने पर उनके खिलाफ कार्रवाई हुई थी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप