जागरण संवाददाता, मुरादाबाद : नगर निगम के नाला सफाई अभियान के बीच शहर के कई नाले-नालियां चोक हैं। मानसून आने में 20 दिन शेष है, अगर चोक नाले साफ नहीं हुए तो शहर की सड़कों पर पानी बहेगा। रेलवे स्टेशन से लेकर शिव माया कॉलोनी होते हुए जयंतीपुर तक नाला इस बार भी साफ नहीं हुआ है। जिससे शिव माया कालोनी के लोगों को इस बार भी दिक्कतों का सामना करना तय है। एचएसबी इंटर कॉलेज गलशहीद के नाले कचरे से ऊपर तक भरे हैं। यही हाल रहा तो मानसून में बारिश का पानी चोक नालों की वजह सड़कों पर बहेगा। गंज गुरहट्टी के पास नालियां आए दिन चोक हो जाती हैं। जिससे बिना बारिश के पानी सड़क पर उफन आता है। रामगंगा विहार के ए ब्लॉक की हालत खराब है। हल्की सी बारिश में इस ब्लॉक में दो से तीन फीट तक पानी भर जाता है। हालांकि इस बार यहां नया नाला सोनकपुर स्टेडियम रोड पर बनाया है। जलभराव रोकने में यह नाला कितना कारगर साबित होगा यह तो मानूसन में ही पता चल पाएगा। भूमिगत नालों की भी नहीं हुई सफाई

नगर निगम ने लॉकडाउन के दौरान नालों की सफाई का काम एक महीने पहले शुरू किया था जिसमें काफी नाले साफ हो गए हैं लेकिन, अभी भी कई नाले अनछुए हैं। भूमिगत नाले साफ ना होने से जलभराव होना तय है। खुले हुए नालों की सफाई नगर निगम स्वयं के संसाधनों से करता है जबकि भूमिगत नालों का टेंडर निकालकर एक्सपर्ट टीम से सफाई कराई जाती है। वर्जन

नालों की सफाई कराई जा रही है लेकिन, जो नाले पहले साफ हो चुके हैं उनमें पीछे से कचरा बहकर जमा हो जाता है। जिससे नाले साफ नजर नहीं आते। दोबारा नालों को साफ कराया जाएगा। छोटी नालियों को नियमित रूप से साफ करने के निर्देश हैं।

डॉ.अजय वर्मा, वरिष्ठ नगर स्वास्थ्य अधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस